हिमाचल में फंसे 45 आईआईटी छात्रों समेत 300 लोग सुरक्षित

नई दिल्लीः लाहौल-स्पीति जिले के विभिन्न हिस्सों में फंसे भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) रुड़की के 45 छात्रों समेत लगभग 300 लोग सुरक्षित है। हिमाचल प्रदेश सरकार के एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

केलांग के सब डिविजनल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) अमर नेगी ने बताया कि बर्फबारी के कारण रोहतांग दर्रा और क्षेत्र की भीतरी सड़कें बंद हो गईं जिससे ट्रेकिंग अभियान पर आये छात्रों समेत 300 लोग फंस गये।

भाषा के अनुसार, नेगी ने बताया कि फंसे हुए लोगों को बचाने के लिए राज्य सरकार से भारतीय वायुसेना (आईएएफ) के दो हेलीकॉप्टरों की मांग की गई है। उन्होंने बताया कि खराब मौसम और बर्फबारी के कारण फंसे 45 छात्रों समेत सभी लोग सुरक्षित हैं।

जिला प्रशासन ने फंसे हुए लोगों को आश्रय और भोजन उपलब्ध कराया है। उन्होंने बताया कि राज्य के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर हाल में हुई बर्फबारी के कारण उपजी स्थिति का जायजा लेने के लिए दिन में लाहौल-स्पीति जिले का दौरा करेंगे।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि स्थिति के बारे में प्रारंभिक सूचना हासिल करने के लिए ठाकुर कुल्लू और लाहौल-स्पीति जिला समेत राज्य के बारिश प्रभावित कई क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं।

नेगी ने बताया कि लाहौल और स्पीति जिले में सोमवार तक लगभग चार फुट तक बर्फबारी हुई जिसके कारण रोहतांग दर्रा और कई आतंरिक सड़कें बंद हो गईं।

%d bloggers like this: