2019 लोकसभा चुनाव: मुलायम सिंह की बहुएं भी हो सकती हैं आमने-सामने

नई दिल्लीः प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि आने वाले लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी यूपी में सबसे बड़े दल के रूप में उभरकर सामने आएगी। फिलहाल 43 समान विचारधारा वाले दल उनके साथ हैं। वहीं मुलायाम सिंह के कुनबे में बिखराव होता नजर आ रहा है। ऐसे में शिवपाल और अपर्णा साथ नजर आए है उससे राजनीतिक गलियारों में कयास लगाए जा रहे हैं कि डिंपल यादव और देवरानी अपर्णा यादव भी आमने सामने हो सकते हैं।

दंगल में जहां पहलवान कुश्ती के दांवपेच आजमाने में मशगूल थे वहीं चाचा शिवपाल के साथ खुलकर आईं अपर्णा ने नए सियासी संकेत दिए हैं। चर्चा रही कि राजनीति के अखाड़े में अब मुलायम के बेटे अखिलेश और भाई शिवपाल के आमने-सामने जोर आजमाइश करने के साथ ही कुनबे में बिखराव होगा। मुलायम की बड़ी बहू डिंपल यादव का सामना आने वाले दिनों में देवरानी अपर्णा से भी हो सकता है। एक मंच पर जिस तरह शिवपाल और अपर्णा नजर आए उससे राजनीतिक गलियारों में तरह-तरह के कयास लगाए जाने लगे हैं।

संडीला में उर्स व दंगल समारोह में आए शिवपाल ने कहा कि बड़े भइया मुलायम सिंह यादव के अलावा उनकी बहू अपर्णा यादव भी उनके साथ हैं। चुनाव में जितने भी दल उतरेंगे, उनसे वार्ता करेंगे। वामसेफ के राष्ट्रीय अध्यक्ष वामन मेश्राम से भी बात हुई है, सब उनके साथ हैं। इस मौके पर अपर्णा यादव ने कहा कि वह जो कुछ भी कर रहीं, नेताजी के कहने पर कर रही हैं। नेताजी उनके साथ हैं। हालांकि उन्होंने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर कोई टिप्पणी नहीं की।

%d bloggers like this: