Posted On by &filed under राजनीति.


मादक पदार्थों की रोकथाम के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति देंगे राष्ट्रीय पुरस्कार

मादक पदार्थों की रोकथाम के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति देंगे राष्ट्रीय पुरस्कार

राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी 26 जून, 2016 को विज्ञान भवन, नई दिल्ली में एक समारोह में मादक पदार्थों की रोकथाम के क्षेत्र में काम कर रहे संस्थानों और व्यक्तियों को उनके अनुकरणीय योगदान के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार देंगे। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री, सामाजिक न्याय और अधिकारिता, थावर चंद गहलोत और राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर तथा विजय सांपला भी मौजूद रहेंगे। 26 जून को नशीली दवाओं के सेवन और अवैध तस्करी के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जात है। प्रत्येक साल नशीली दवाओं का समाज पर, खासकर युवाओं पर, पड़ने वाले दुष्प्रभावों के बारे में पूरे विश्व में अभियानों और कार्यक्रमों के माध्यम से जागरूकता फैलाई जाती है। इस अभियानों का उद्देश्य मादक पदार्थों का सेवन और अवैध तस्करी के खिलाफ लोगों का समर्थन हासिल करना और उन्हें प्रभावित करना होता है।

इस अवसर पर सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत के साथ राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर और विजय सांपला, अन्य गणमान्य व्यक्तियों और सीमा सुरक्षा में लगे विभिन्न बलों के 4,000 जवान इंडिया गेट पर शपथ लेंगे। लोगों में संवेदना फैलाने के लिए पुलिस बैंड के साथ सांकेतिक श्लोगन मार्च के बाद मंत्रियों द्वारा “रन अगेंस ड्रग एब्यूज“ को हरी झंडी दिखाई जाएगी। इस साल इस दौर का मुख्य केंद्र “बिना ड्रग के समुदाय का विकास” है।

सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग देश में मादक पदार्थों की मांग को कम करने की नीति बनाने और उसे लागू करने वाली मुख्य संस्था है। इस संदर्भ में, इस विभाग ने 1985-86 से ही “प्रीवेंशन ऑफ अल्कोहलिज़्म एंड एब्यूज” नामक कार्यक्रम चला रही है, जिसके अंतर्गत गैर-सरकारी संस्थाओं (एनजीओ) को वित्तीय सहायता दी जाती है। ड्रग और अल्कोहल प्रभावित लोगों, उनके परिवारों और समुदाय को सहायता देने के लिए एक टोलफ्री राष्ट्रीय हेल्पलाइन नम्बर भी जारी किया गया है।

मादक पदार्थों से लोगों का बचाव करने तथा प्रभावित लोगों के पुनर्वास के लिए काम कर रहे संस्थानों और लोगों की पहचान और उसे बढ़ावा देने के लिए सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने निम्नलिखित श्रेणियों में राष्ट्रीय पुरस्कार देती है।

संस्थागत श्रेणी

क. शराबियों और मादक पदार्थ का उपयोग करने वाले लोगों को पुनर्वास सेवा प्रदान करने वाला सर्वश्रेष्ठ पुनर्वास केंद्र।।

ख. शराबियों और मादक पदार्थ की रोकथाम के लिए काम करने वाला सर्वश्रेष्ठ पंचायतीराज या नगर निकाय।

ग. शराबियों और मादक पदार्थ की रोकथाम और जागरूकता के लिए उत्कृष्ट काम करने वाला शिक्षण संस्थान।

घ. शराबियों और मादक पदार्थ की रोकथाम के लिए उत्कृष्ट काम करने वाला सर्वश्रेष्ठ गैर-सरकारी संगठन (क्रम संख्या क, ख और ग को छोड़कर) ।

ड. सर्वश्रेष्ठ शोध अथवा खोज।

च. सर्वश्रेष्ठ जागरूकता अभियान।

व्यक्ति श्रेणी

किसी व्यक्ति द्वारा उत्कृष्ट उपलब्धि।

( Source – PIB )

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz