आर्थिक मोर्चे पर विफल रहा है भाजपा सरकार: सचिन पायलट

sachin_pilot_injured1_niharonlineआर्थिक मोर्चे पर विफल रहा है सरकार: सचिन पायलट

जयपुर,। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने एक पखवाड़े के भीतर दूसरी बार पेट्रोल व डीजल की दरों में वृद्धि किये जाने की कड़े शब्दों में निन्दा की है। पायलट ने एक बयान जारी कर कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जब गत् दिनों जयपुर दौरे पर आये थे तब उन्होंने पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों के कम होने का श्रेय भाजपा को दिया था और ने अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर तेल कीमतें कम होने को अपने खुद के नसीब से जोड़ते हुए अपनी उपलब्धि बताया था। जबकि वास्तविकता यह है कि अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर गत दिनों पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतें वर्ष 2013 की तुलना में आधी से भी कम रह गई थी जिससे सरकार को 90 हजार करोड़ रुपये की आय हुई है। उन्होंने कहा कि पेट्रो पदार्थों की कीमतें कम होने के बावजूद भी पेट्रोल की दरों को भाजपा सरकार ने अब तक छरू बार बढ़ाया तथा डीजल की दरों में सात बार वृद्धि करके जनता को महँगाई के बोझ तले दबाने का काम किया है।पायलट ने कहा कि रुपया डालर के मुकाबले साढ़े चार माह में सबसे नीचे 64 रुपये के करीब पहुँच गया है जो साफ बताता है कि भाजपा आर्थिक मोर्चे पर जनता को राहत देने वाली नीतियां बनाने में पूरी तरह विफल रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने चुनावी वादे के तहत वेट विसंगतियों को दूर करने के स्थान पर पेट्रोल व डीजल पर चार प्रतिशत वेट बढ़ाकर इनकी कीमतों में अप्रत्याशित वृद्धि की है। इसी प्रकार केन्द्र सरकार भी उत्पाद शुल्क लगाकर जनता के हितों से समझौता कर राजकोषीय घाटे को पाटने में लगी हुई। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार जनता की आर्थिक सेहत के साथ खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार के कार्यकाल का एकवर्ष पूरा होने वाला है परन्तु इस दौरान भाजपा हर मोर्चे पर विफल रही है क्योंकि सरकार ने जनविरोधी फैसले लेकर मूलभूत सुविधाओं की दरों में वृद्धि कर महँगाई को बढ़ाने का काम किया है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: