उषा मार्टिन विश्वविद्यालय द्वारा 2018-2019 सत्र के लिए कई नए कोर्स की शुरुआत की जाएगी

उषा मार्टिन विश्वविद्यालय में दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में एवं भारतीय सांख्यिकी संस्थान के कई दिग्गजों ने शिरकत किया। कार्यशाला में बताया गया कि 2018-2019 सत्र के लिए कई नए कोर्स की शुरुआत की जाएगी। इन में आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस एवं मशीन लर्निंग मॉड्यूलर जैसे शामिल है।
भविष्य में यह विश्वविद्यालय तकनीकी रूप से प्रशिक्षित स्नातकों को तैयार करने का योजना बना रहा है। इस तरह के पाठ्यक्रम आने वाले समय में छात्रों को नौकरी दिलाने में मददगार साबित हो सकता है। किसी नीजी शिक्षण संस्थान द्वारा इस तरह के कोर्सेज़ चलाना अपने-आप में अनोखा पहल है। इस विश्वविद्यालय द्वारा डिप्लोमा,स्नातक,स्नातकोत्तर के साथ-साथ पी.एच.डी स्तर पर कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है।

उभरते रुझानों को देखते हुए इस संस्थान द्वारा इस तरह के कार्यक्रम शुरुआत की  गई है जिससे आने वाले समय में छात्रों को नौकरी ढूंढ़ने में कोई परेशानी नहीं हो। गौरतलब है कि उषा मार्टिन यूनिवर्सिटी को हाल ही में ईस्ट इंडिया का सर्वश्रेष्ठ उभरता हुआ विश्वविद्यालय के अवार्ड से सम्मानित किया गया। सम्मान समरोह में भाग लेते हुए यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर एस सी गर्ग ने इस पाठ्यक्रम के बारे में बताते हुए कहा था कि इस तरह के कोर्सेज आने वाले समय में छात्रों के लिए लाभदायक होंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: