एजेंडा तय कर मीडिया बदल रही खबरों की परिभाषाः अरुण जेटली

arun jaitley_0_1_2_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0एजेंडा तय कर मीडिया बदल रही खबरों की परिभाषाः अरुण जेटली
नई दिल्ली,। खबरो की परिभाषा बदल गई है। मीडिया आगे बढ़ कर कदम उठा रहा है और ऐसे एजेंडा तय कर रहा है जो खबर बन रही है। हर प्लेटफार्म पर खबरों की प्राथमिकता बढ़ने से कैमरे का असर बढ़ गया है। यह स्थिति वितरण की ऊंची लागत, दर्शक खींचने की होड़ और प्रसारित सामग्री की गुणवत्ता में समझौते की ओर ले जाती है। ऐसे माहौल में बहस शोर में बदलती जा रही है। फिर भी पाठकों और दर्शकों के बीच तथ्यों के आधार पर सूचना और खबर पहुंचाने का अवसर बरकरार है। श्री जेटली ने उपरोक्त बातें आज की ओर से संचार विश्वविद्यालय की स्थापना की जरूरत पर आयोजित एक गोष्ठी में कही।उन्होने कहा की केंद्रीय वित्त, कॉरपोरेट मामले और सूचना और प्रसारण मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि मीडिया में तेजी से बदलते और उभरते परिदृश्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए एक संरचित प्रशिक्षण कार्यक्रम का काफी महत्व है। उन्होंने कहा कि अलग-अलग तरह के लक्षित श्रोताओं और दर्शकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए पत्रकार जिन चुनौतियों का सामना कर रहे हैं उसमें कौशल विकास एक महत्वपूर्ण कदम है। श्री जेटली ने उपरोक्त बातें आज भारतीय जनसंचार संस्थान की ओर से संचार विश्वविद्यालय की स्थापना की जरूरत पर आयोजित एक गोष्ठी में कही।देश में संचार विश्वविद्यालय की स्थापना के संबंध में जो विचार-विमर्श हुआ उससे मीडिया से जुड़े सभी पक्ष मीडिया की दुनिया के नए और उभरते पहलुओं पर ध्यान केंद्रित कर सकेंगे। इससे उनका ध्यान मीडिया में काम कर रहे लोगों की जरूरतों और तकनीकी बदलावों, नवाचार और कौशल जरूरतों पर जाएगा।सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव विमल जुल्का ने कहा कि दुनिया और देश के मीडिया और मनोरंजन उद्योग के बेहतरीन मॉडलों पर विचार-विमर्श के बाद ही देश में संचार विश्वविद्यालय की स्थापना पर कोई रुख उभर कर सामने आ पाएगा। उन्होंने कहा कि इस संगोष्ठी के माध्यम से मीडिया के विभिन्न पक्षों के विचार संचार विश्वविद्यालय की स्थापना के बारे में जाने जा सकेंगे। उन्होंने कहा कि मीडिया उद्योग की जटिलताएं बढ़ती जा रही हैं। हालांकि उद्योग में पेशेवरों की जरूरतें और मांग भी बढ़ती जा रही है। इस जटिल चुनौती को पूरी करने में नई पीढ़ी को किस तरह सक्षम बनाया जाए, इस पर गौर करना भी जरूरी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *

Captcha verification failed!
CAPTCHA user score failed. Please contact us!