टाटा ग्रुप के चेयरमैन पद से हटे सायरस मिस्त्री

सायरस मिस्‍त्री के इस्‍तीफे को कॉर्पोरेट सेक्‍टर में हालिया दौर के सबसे बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है। बता दें कि टाटा ग्रुप ने करीब चार साल पहले शापूरजी पालोनजी ग्रुप के एमडी रहे सायरस मिस्त्री को रतन टाटा का उत्तराधिकारी चुना था। मिस्‍त्री ने 29 दिसंबर 2012 को रतन टाटा के बाद चेयरमैन पद संभाला था।

cyrus-mistryदेश की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक टाटा ग्रुप के चेयरमैन सायरस मिस्‍त्री को पद से हटा दिया गया। उनके बाद अब रतन टाटा कंपनी के अंतरिम चेयरमैन बने हैं।
टाटा सन्‍स बोर्ड ने चार महीने के लिए रतन टाटा को अंतरिम चेयरमैन नियुक्‍त किया है। इस दौरान कंपनी का सर्च पैनल नए चेयरमैन की तलाश करेगा। नए चेयरमैन की खोज के लिये गठित पैनल में रतन टाटा, वेणु श्रीनिवासन, अमित चंद्र, रोनेन सेन और लॉर्ड कुमार भट्टाचार्य शामिल होंगे।

मिस्त्री की पारिवारिक कंपनी शापूरजी पालोनजी की टाटा समूह में 18.4 प्रतिशत हिस्सेदारी है जबकि 66 प्रतिशत हिस्सेदारी टाटा परिवार से जुड़े ट्रस्टों के पास है।

सायरस मिस्‍त्री के इस्‍तीफे को कॉर्पोरेट सेक्‍टर में हालिया दौर के सबसे बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है। बता दें कि टाटा ग्रुप ने करीब चार साल पहले शापूरजी पालोनजी ग्रुप के एमडी रहे सायरस मिस्त्री को रतन टाटा का उत्तराधिकारी चुना था। मिस्‍त्री ने 29 दिसंबर 2012 को रतन टाटा के बाद चेयरमैन पद संभाला था।

Leave a Reply

%d bloggers like this: