डेब्यू मैच में इस खिलाड़ी ने मचाया धमाल , लगाई रिकॉर्ड की झड़ी

नई दिल्ली : भारत के पृथ्वी शॉ ने गुरुवार को राजकोट में वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में खास उपलब्धि हासिल की। अपना डेब्यू मैच खेल रहे पृथ्वी ने पहली गेंद खेलने के साथ ही अपना नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज करा लिया। वे दिग्गजों के ग्रुप में शामिल हुए।पृथ्वी शॉ को कप्तान विराट कोहली ने टेस्ट कैप प्रदान की। वे भारत के 293वें टेस्ट खिलाड़ी बने। उन्होंने 18 वर्ष 329 दिन की उम्र में डेब्यू किया। वे केएल राहुल के साथ पारी की शुरुआत करने उतरे और उन्होंने पहली गेंद का सामना किया। वे किसी टेस्ट में पहली गेंद का सामना करने वाले चौथे कम उम्र के बल्लेबाज बने। उनसे कम उम्र में जिम्बाब्वे के हेमिल्टन मसाकाद्जा, बांग्लादेश के तमिम इकबाल और पाकिस्तान के इमरान फरहत ने यह करिश्मा किया था।पृथ्वी ने रोस्टन चेज की गेंद पर 1 रन लेकर फिफ्टी पूरी की। उन्होंने 18 वर्ष 329 दिन की उम्र में फिफ्टी पूरी की। वे सबसे कम उम्र में पहली टेस्ट फिफ्टी लगाने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज बने। उनसे कम उम्र में सचिन तेंडुलकर और पार्थिव पटेल ने यह उपलब्धि हासिल की। सचिन ने 16 वर्ष 214 दिन की आयु में 1989 में फैसलाबाद में पाकिस्तान के खिलाफ पहली फिफ्टी बनाई थी। पार्थिव ने 18 वर्ष 301 दिन की उम्र में 2004 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में यह करिश्मा किया था।

%d bloggers like this: