दीनदयाल धाम से प्रेरणा लेकर काम करने की जरूरत: प्रधानमंत्री

narendra-modi-namaste-650_635681370308508421दीनदयाल धाम से प्रेरणा लेकर काम करने की जरूरत:
(दीनदयाल धाम),। उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में पं दीनदयाल धाम पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पं दीनदयाल उपाध्याय के जीवन के आदर्शों से प्रेरणा लेकर ही कई योजनाओं की शुरूआत की गयी। उन्होनंे कहा कि जिस सादगी में पंडित जी ने जीवन बिताया और जिस सादगी के साथ जीवन जिया वह सबके लिए प्रेरणा का स्रोत है।उन्होंने कहा कि वे देश को ग्रामोत्थान व अन्त्योदय का विचार दिया था। उनकी अन्त्योदय की कल्पना की पीछे अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति का उत्थान करना था। आज भी उनकी परिकल्पना हम सबके लिए प्रासंगिक है।वे पण्डित के जन्मस्थली नंगला चन्द्रभान में दीनदयाल उपाध्याय स्मारक समिति द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में लोगों को सम्बोधित कर रहे थे।नंगला चंद्रभान में स्थित दीनदयाल उपाध्याय को श्रद्धांजलि देने के बाद मोदी ने कहा कि देश के किसी भी कोने में पर्यावरण की रक्षा कैसे करनी चाहिये, महिला सशक्तिकरण कैसे हो किसी गांव का समुचित विकास कैसे हो यह दीनदयाल जी के जीवन से सीखा जा सकता है।मोदी ने कहा कि इस पवित्र जगह पर आने का अवसर मिला इसका मैं सदैव आभारी रहूंगा। उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रीय अध्यक्ष से स्वयं मैंने कहा था कि दीन दयाल धाम आने का आग्रह किया था। इसके साथ ही अटल जी के गांव जाने और डा श्यामा प्रसाद मुखर्जी के गांव जाने की बात जेहन में आयी थी।‘‘मोदी ने कहा कि दीनदयाल धाम से जो प्रेरणा मिलेगी वह आगे आने वाले समय में काफी काम करेगी। जिस संकल्प को लेकर हम चले हैं उसमें एक नया संचार होगा। इस दौरान उत्तर प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक, भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन रामलाल, सह संगठन महामंत्री शिव प्रकाश, सूर्या फाउण्डेशन के जयप्रकाश अग्रवाल समेत कई प्रमुख लोग मौजूद हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: