नई सरकार के गठन का मार्ग प्रशस्त

भाजपा महासचिव राम माधव बुधवार को अचानक दिल्ली से श्रीनगर पहुंचे। करीब शाम 5 बजे राम माधव शहर के गुफ्कार रोड़ स्थित महबूबा मुफ्ती के निवास पर पहुंचे जहां दोनो के बीच बैठक के दौरान राज्य में सरकार गठन को लेकर जारी उहापोह की स्थिति में राममाधव के इस दौरे को काफी अहम माना जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक राम माधव ने आज ही पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती से मुलाकात की। इस मुलाकात में राज्य में सरकार गठन को लेकर दोनों दलों के बीच बातचीत को अंतिम रूप दिया गया।
31-mehboobamufti-600
गौरतलब है कि जनवरी में मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद से भाजपा-पीडीपी गठबंधन के बीच सरकार को लेकर सहमति नहीं बन पाई है। इससे पहले इस माह की शुरुआत में भी सरकार गठन को लेकर बातचीत हुई थी लेकिन फि र इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया गया। तब कहा गया था कि जम्मू-कश्मीर में सरकार पर सस्पेंस अभी कम से कम हफ्तेभर जारी रहेगा। कहा गया कि महबूबा मुफ्ती की अध्यक्षता वाली पीडीपी 15 फरवरी के बाद सरकार बनाने को लेकर अंतिम फैसला लेगी। तब तक मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद 40 दिन का शोक पूरा हो जाएगा।

सूत्रों के अनुसार महबूबा और राम मधाव के बीच बैठक शाम के करीब 5.30 पर शुरु हुई और कुछ घंटों तक चली। बाद में माधव सर्किट हाउस के लिए रवाना हो गए। उन्होने कहा कि भाजपा ने पी.डी.पी. प्रमुख द्वारा रखी गई शर्तों पर सहमति जताई है और नई सरकार के गठन के लिए औपचारिक घोषणा जल्द की जाएगी।

सूत्रों ने कहा कि भाजपा ने राज्य को एन.एच.पी.सी. से दो पनबिजली परियोजनाओं को वापस करने पर भी सहमति जताई है।
सूत्रों ने कहा कि महबूबा मुफ्ती ने केन्द्र सरकार से राज्य के उन क्षेत्रों जहां पिछले एक दशक में आतंकवादी संबंधित गतिविधियों में गिरावट आई है से अफ्सपा को हटाने के लिए कहा है। केन्द्रीय सरकार श्रीनगर और कठुआ जिलों से पहले चरण में परीक्षण के आधार पर अफ्सपा हटाने पर विचार करेगी।

एक शीर्ष नेता ने कहा कि दोनो के बीच बैठक के बाद प्रदेश में नई सरकार के गठन के लिए मार्ग प्रशस्त किया गया और जम्मू कश्मीर में जल्द ही पी.डी.पी.-भाजपा गठबंधन सरकार का गठन किया जाएगा।सूत्रों के अनुसार पीडीपी की ओर से अंतिम फैसला लिए जाने के बाद भी राज्य को सरकार मिलने में कम से कम 10 दिन और लग जाएंगे। यदि पीडीपी और भाजपा के बीच गठबंधन पर सहमति बनती है तो फ रवरी अंत तक ही जम्मू-कश्मीर में नई सरकार बन पाएगी।राज्य में मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद के 7 जनवरी को निधन के बाद से ही राष्ट्रपति शासन लागू है। इससे पहले नैशनल कांफ्रैंस के कार्यकारी अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने राम माधव की श्रीनगर यात्रा के बारे में ट्वीट किया। उन्होने कहा कि अनिर्धारित उड़ान वी.टी.जे.एस.जी. सामान्य ऑपरेशन घंटों के बाद श्रीनगर में उतरी। पी.डी.पी.-भाजपा सरकार गठन के संबंध में कुछ पक रहा है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: