पिछले साल के मुकाबले इस बार ढाई फीसदी बढ़ा धान का रकबा

0
135

नई दिल्ली: खरीफ सीजन की सबसे प्रमुख फसल धान का रकबा पिछले साल के मुकाबले इस साल बढ़ गया है। हालांकि दलहन, मोटा अनाज और नकदी फसल कपास का रकबा पिछले साल के मुकाबले कम है। तिलहनों का रकबा पिछले साल के मुकाबले इस साल करीब ढाई फीसदी ज्यादा है।खरीफ फसलों का कुल रकबा पिछले साल से थोड़ा ही पिछड़ा हुआ है। केंद्रीय कृषि सहकारिता एवं किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी फसल वर्ष 2018-19 (जुलाई-जून) के खरीफ सीजन के बुवाई के साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार, देशभर में खरीफ फसलों का रकबा 1,022.87 लाख हेक्टेयर है, जोकि पिछले साल की समान अवधि का रकबा 1027.87 लाख हेक्टेयर से महज 0.41 फीसदी कम है।धान का रकबा 369.98 लाख हेक्टेयर हो गया है, जोकि पिछले साल की समान अवधि के रकबे 367.88 लाख हेक्टेयर से 0.57 फीसदी ज्यादा है। खरीफ सीजन की सभी दलहन फसलों का रकबा 132.66 लाख हेक्टेयर दर्ज किया गया है जबकि पिछले साल 136.12 लाख हेक्टेयर था। दलहनों का रकबा पिछले साल के मुकाबले 2.55 फीसदी कम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *

Captcha verification failed!
CAPTCHA user score failed. Please contact us!