Homeराष्ट्रीयपुलिस ने हिजबुल आतंकी के पिता को रिहा किया,3 SPO ने छोड़ी...

पुलिस ने हिजबुल आतंकी के पिता को रिहा किया,3 SPO ने छोड़ी नौकरी

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने चेतावनी देते हुए अगवा किये गए 11 पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों को कल रात रिहा कर दिया। आतंकियों ने कहा कि सभी पुलिसवाले अपने पद से इस्तीफा दे दें, अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो आगे रहम नहीं करेंगे। आतंकियों की धमकी के बाद त्राल में तीन एसपीओ ने इस्तीफा दे दिया।आतंकी इनमें से एक एसपीओ के घर में घुस गए थे।

इस बीच जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज नाइकू के पिता असदुल्ला नाइकू को रिहा कर दिया है। पुलिस ने उसे तीन दिनों पहले पुलवामा जिले से गिरफ्तार किया था।

जिसके बाद नाइकू ने पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों को अगवा करने के बाद धमकी दी थी। उसने कहा था पुलिस ने आतंकवादियों को परिवारों के खिलाफ कार्रवाई करने पर मजबूर कर दिया क्योंकि पुलिस ने एक आतंकवादी के गैर-आतंकवादी रिश्तेदार को अगवा किया था। सोशल मीडिया पर हिजबुल के ऑपरेशनल कमांडर रियाज नाइकू ने कहा, “पुलिस ने हमें आंख के बदले आंख और कान के बदले कान की नीति का पालन करने के लिए मजबूर किया है।”

उसने कहा, “पुलिसकर्मियों को सलाह दी जाती है कि वे अपनी नौकरियों को छोड़ दें या खराब से खराब स्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहें।” ऐसा माना जा रहा है कि आतंकी पिता की गिरफ्तारी से भड़का हुआ था और उसने पुलिस पर दबाव बनाने के लिए पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों को अगवा किया।

आतंकियों की धमकी के बाद त्राल में तीन एसपीओ ने इस्तीफा दे दिया. आतंकी इनमें से एक एसपीओ के घर में घुस गए थे।

इस बीच जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज नाइकू के पिता असदुल्ला नाइकू को रिहा कर दिया है। पुलिस ने उसे तीन दिनों पहले पुलवामा जिले से गिरफ्तार किया था।

जिसके बाद नाइकू ने पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों को अगवा करने के बाद धमकी दी थी। उसने कहा था पुलिस ने आतंकवादियों को परिवारों के खिलाफ कार्रवाई करने पर मजबूर कर दिया क्योंकि पुलिस ने एक आतंकवादी के गैर-आतंकवादी रिश्तेदार को अगवा किया था। सोशल मीडिया पर हिजबुल के ऑपरेशनल कमांडर रियाज नाइकू ने कहा, “पुलिस ने हमें आंख के बदले आंख और कान के बदले कान की नीति का पालन करने के लिए मजबूर किया है।”

उसने कहा, “पुलिसकर्मियों को सलाह दी जाती है कि वे अपनी नौकरियों को छोड़ दें या खराब से खराब स्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहें।” ऐसा माना जा रहा है कि आतंकी पिता की गिरफ्तारी से भड़का हुआ था और उसने पुलिस पर दबाव बनाने के लिए पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों को अगवा किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

spot_img