Posted On by &filed under राजनीति.


69136बिहार में विकास कार्य ठप: भाजपा
पटना,। भाजपा से गठबंधन टूटने के बाद बिहार में विकास कार्य तो ठप हुए ही हैं उपर से राजद के सहयोग से सरकार चलाने की कीमत सूबे के आमजन को चुकानी पड़ रही है। पूरे राज्य में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है। गुंडों का बोलबाला है । अब सूबे में व्यापारियों एवं व्यवसायियों के रूपये आये दिन लूटे जा रहे हैं । प्रांत में अपहरण, फिरौती एवं रंगदारी का व्यवसाय पुनः शुरू हो गया है ।उक्त बातें भारतीय जनता पार्टी के प्रदेष प्रवक्ता सुरेष रूंगटा ने कही। भजापा प्रवक्ता ने कहा कि सूबे के किसान जमीन का मुआवजा, धान खरीद का भुगतान, फसल बर्बादी की क्षतिपूर्ति का मुआवजा नहीं मिलने पर आंदोलित हैं। एक माह से भी कम समय में चार-चार किसानों द्वारा अपने जीवन का बलिदान देने के बाद भी सूबे के मुखिया को किसानों की तनीक भी चिंता नहीं है। इतना ही नहीं प्रांत में कभी सरकारी कर्मचारी, कभी सरकारी अस्पतालों में कार्यरत नर्स, कभी षिक्षक तो होमगार्ड के जवान हड़ताल कर रहे हैं। राज्य में पूर्णतः अराजकता का माहौल पैदा हो गया है ।भाजपा नेता ने कहा कि सूबे के मुखिया को इन बातों की कोई भी परवाह नहीं है। वे जबरदस्ती राजद के साथ विलय के लिये व्याकुल हैं । शायद वे इस मूल बात को भूल गये हैं कि वोट तो आम आदमी ही देगा, जनता को नजरअंदाज कर केवल विलय या गठबंधन से चुनाव नहीं जीता जा सकता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *