हरियाणा-जाट आंदोलन ने लिया उग्र रूप,

22 तक स्कूल-कॉलेज बंद

मोबाइल इंटरनेट सेवा भी बंद

आरक्षण को लेकर आग काफी भड़क गई है। जाटों के इस आंदोलन ने उग्र रूप ले लिया है। तनाव को देखते हुए हरियाणा में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। गत गुरुवार को आरक्षण को लेकर काफी बवाल हुआ है। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए कई शहरों में धारा 144 लगा दी गई। रोहतक और झज्जर में स्कूल और कॉलेज 22 फरवरी तक बंद कर दिए गए हैं। आंदोलनकारियों ने कई वाहनों को जला दिया और दुकानों में तोड़फोड़ की।
आंदोलनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस व आरएएफ ने आंसू गैस के गोले छोड़कर लाठीचार्ज भी किया। प्रदर्शन से राज्य के कई हिस्सों में रेल एवं सड़क यातायात प्रभावित हुआ। आंदोलन के केंद्र रोहतक-झज्जर क्षेत्र में रेल और सड़क यातायात सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ। भिवानी, सोनीपत, हिसार भी आंदोलन से व्यापक रूप से प्रभावित हुए हैं। आंदोलनकारियों ने जाटों को शामिल करने के लिए आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के लिए कोटा बढ़ाने की मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की पेशकश को खारिज कर दिया।
default (3)वहीं सरकार ने केंद्र से अतिरिक्त पैरा मिल्ट्री फोर्स मांगा है।पुलिस ने छात्र आंदोलनकारियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा और जाम खुलवाया लेकिन जैसे ही पुलिस वापिस गई जाटों ने फिर से जाम लगा दिया। आंदोलन के केंद्र रोहतक-झज्जर क्षेत्र में रेल और सड़क यातायात सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ। भिवानी, सोनीपत, हिसार भी आंदोलन से व्यापक रूप से प्रभावित हुए हैं। आंदोलनकारियों ने जाटों को शामिल करने के लिए आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के लिए कोटा बढ़ाने की मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की पेशकश को खारिज कर दिया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: