हिमालयन विश्वविद्यालय में छात्रों ने पौधे लगाकर पर्यावरण बचाने का दिया संदेश

ईटानगर : 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में समूचे विश्व में मनाया जा रहा है ।इस बार विश्व पर्यावरण दिवस का वैश्विक स्तर पर आयोजन भारत द्वारा किया जा रहा है । विश्व पर्यावरण दिवस 2018 का थीम प्लास्टिक प्रदूषण से निजात रखा गया है। । आज के दिन लोगों को पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण के प्रति जागरूक किया जाता है। आज जिस गति से मनुष्य तेल, गैस, पानी आदि का उपयोग कर रहा है शायद ही हमारी आगे की पीढ़ी इन चीजों का उपयोग कर पाएगी। यह हो सकता है कुछ समय बाद यह घरती ही न रहें।विश्व पर्यावरण दिवस पर मंगलवार को हिमालयन विश्वविद्यालय में कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें छात्रों और टीचर ने पौधे लगाकर पर्यावरण बचाने का संदेश दिया। इस दौरान हिमालयन विश्वविद्यालय में पौधरोपण के साथ ही विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित कीं। जिसमें छत्रों ने पर्यावरण को बचाने की अपील की, वहीं कई संस्थाओं ने पर्यावरण जागरूकता अभियान के तहत सार्वजनिक रूप से प्लास्टिक बैग व पॉलीथिन के बहिष्कार का लोगों को संकल्प दिलाया।पर्यावरण रैली में हिमालयन विश्वविद्यालय के छात्रों ने हिस्सा लिया जिसके समर्थन में स्थानीय लोगों ने रैली में सम्मिलित होकर छात्रों के साथ पर्यावरण सुरक्षा की शपथ ली। अपने आने वाले कल और आज को बेहतर बनाने के लिए पर्यावरण सुरक्षा जैसे अहम मुद्दे को समझाने के लिए छात्रों ने नुक्कड़ नाटक भी किए जिनसे पेड़ों को न काटने और अपनी पृथ्वी को बचाने का संदेश दिया गया।” हिमालयन विश्वविद्यालय के छात्रों ने रैली निकालकर लोगों से पर्यावरण बचाने की अपील की जिससे आने वाली पीढ़ी स्वच्छ हवा मिल सके ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: