Posted On by &filed under उत्तर प्रदेश, राज्य से, राष्ट्रीय.


सौ बंदी रिहा होगे दीनदयाल की जन्म शताब्दी पर

सौ बंदी रिहा होगे दीनदयाल की जन्म शताब्दी पर

पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जन्मशती के उपलक्ष्य में राज्य सरकार ने प्रदेश की विभिन्न जेलों में बंद 100 बंदियों को रिहा करने का फैसला लिया है।

इन बंदियो को कल 25 सितंबर को पं दीन दयाल उपाध्याय की जयंती पर छोड़े जाने के लिये आदेश कारागार महानिरीक्षक के माध्यम से संबंधित कारागार अधीक्षको को भेज दिये गये है।

गृह विभाग के एक प्रवक्ता के अनुसार इस अवसर पर जिन बंदियों को रिहा किये जाने का निर्णय लिया गया है, उनमें से 80 बंदी ऐसे है जो न्यायालयों द्वारा उन्हें दी गयी सजा पूरी कर चुके है। मगर गरीबी पैसे की कमी के कारण उनके ऊपर जो जुर्माना लगाया गया था वह जमा नहीं कर सके, जिसके कारण वह सजा पूरी होने के बाद भी जेल में बंद है। इसके अलावा आजीवान कारावास की सजा भुगत रहे 20 बंदियों को दया याचिका, प्रोबेशन एक्ट तथा नामिनल रोल जैसे प्रावधानों अन्तर्गत सक्षम प्राधिकारी के अनुमोदन से रिहा किया जा रहा है।

प्रवक्ता ने बताया कि जुर्माना न जमा कर पाने के कारण जिन बंदियों को रिहा किया जा रहा है, उनमें जिला कारागार लखनऊ से 12, वाराणसी से 11, फैजाबाद से 10, मथुरा से पांच तथा बाकी अन्य जिलों से हैं।

इसी प्रकार आजीवन कारावास के 20 कैदियों में से बरेली से सात, वाराणसी से पांच, आगरा से चार, फतेहगढ़ से दो एवं नैनी और गोरखपुर कारागार का एक कैदी शामिल है।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *