चीन : मरने वालों की संख्या सात हुई, 430 अभी भी लापता

images (2), 430 अभी भी लापता
बीजिंग,। चीन में एशिया की सबसे लंबी नदी यांगत्सी में एक क्रूज पोत के डूबने से संख्या बढ़कर सात हो गई है और अभी भी लगभग 430 लोग लापता हैं। इस घटना के बाद चार हजार से भी अधिक बचावकर्मी मौसम के प्रतिकूल परिस्थितियों में जीवित लोगों की तलाश में जुटे हैं।इस संबंध में बचावकर्मियों ने कहा कि अब तक 14 लोग बचाए जा चुके हैं, इसमें अभी और भी जीवित लोग हो सकते हैं लेकिन भारी बारिश तथा तेज हवाओं से बचाव कार्य बाधित हो रहा है।घटना में जीवित बचे और बाद में पूछताछ के लिए गिरफ्तार किए गए जहाज के कप्तान और मुख्य अभियंता के अनुसार द ईस्टर्न स्टार नाम का यह जहाज मध्य हुबेई प्रांत के जिआनली में तूफान में फंसने के कारण ‘‘एक या दो मिनट के भीतर’’ डूब गया था।वहीं, नौवहन मामलों के चांगजियांग (यांगत्सी) नदी प्रशासन ने कहा कि पानी से 12 लोगों को बचाया गया तथा दो अन्य को मलबे से निकाला गया। इसने कहा कि दोपहर के करीब 65 वर्षीय एक महिला मलबे से तैरकर तब बाहर आने में सफल हो गई जब गोताखोरों ने उसे सांस लेने वाला उपकरण उपलब्ध कराया। इक्कीस वर्षीय एक व्यक्ति एक छोटे कंपार्टमेंट में फंसा मिला। उसे भी उपकरण मुहैया कराया गया और वह अपराह्न करीब तीन बजे तैरकर बाहर आने में सफल हो गया।प्रशासन के उप प्रमुख ली जियांग ने बताया कि गोताखोर जीवित लोगों की तलाश में डूबे जहाज के विभिन्न हिस्सों में जा रहे हैं। नदी में खोज का दायरा 150 किलोमीटर तक विस्तारित हो चुका है और यह 220 किलोमीटर तक जारी रहेगा।
जानकारी के अनुसार, पुलिस, दमकल कर्मियों और नौसेना के कर्मियों सहित 4,000 लोगों की टीम बचाव अभियान में शामिल है। चार मंजिला इस जहाज में 456 लोग सवार थे। इनमें 405 यात्री, 46 चालक दल के सदस्य और पांच टूर गाइड शामिल थे।परिवहन मंत्रालय ने कहा कि अधिकतर यात्री शंघाई और इसके पड़ोसी राज्य जियांगसू से थे। इन लोगों की उम्र तीन से 83 साल के बीच थी। इनमें से अधिकतर लोग 60 और 70 साल की उम्र के थे।मंगलवार को घटनास्थल पर मौजूद चीन के प्रधानमंत्री ली क्विंग ने बचावकर्मियों से कहा कि वे लोगों को बचाने के लिए ‘‘सभी प्रयास’’ करें।
विमान से घटनास्थल पर जाने के दौरान बचाव एवं आपातकलीन मोचन टीम की बैठक की अध्यक्षता करते हुए चीनी प्रधानमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि लोगों का जीवन बचाना शीर्ष प्राथमिकता होना चाहिए। उन्होंने बचावकर्मियों को निर्देश दिया कि वे खोज एवं बचाव मिशन में हरसंभव कदम उठाएं। के ऊपर बने बांधों के इंजीनियरों ने पानी का स्तर कम करने के निर्देश दिए हैं।ली ने कहा कि बचाव एवं जांच को लेकर नियमित और पारदर्शी जानकारी उपलब्ध होनी चाहिए तथा अधिकारियों को बचाव कार्य के लिए पर्याप्त कोष और कर्मी सुनिश्चित करने चाहिए। नौसेना के दो गोताखोर जब पलटे जहाज के भीतर से एक व्यक्ति को जीवित निकाल कर आए तो ली ने और गोताखोर लगाने के भी आदेश दिए।

Leave a Reply

%d bloggers like this: