पूर्वोत्तर में हो रही है चीन निर्मित नूडल्स की तस्करी

670px-Make-Chinese-Noodles-and-Vegetables-Step-6पूर्वोत्तर में हो रही है निर्मित की
नई दिल्ली,। हाल ही में मैगी नूडल्स पर बैन लगने के बाद पूर्वोत्तर के राज्यों में चीनी नूडल्स की बाढ़ आ गई है । चीन और कई अन्य पड़ोसी देशों में निर्मित नूडल्स ट्रकों में भरकर तस्करी के ज़रिए मणिपुर के मोरे के रास्ते पूर्वोत्तर के राज्यों में लाई जा रही हैं । विदेशों से आने वाली इन नूडल्स का लैब में परीक्षण नहीं होता इसलिए ये मैगी से भी अधिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक बताई जा रही है ।ज्ञात हो कि लंबे समय से पूर्वोत्तर राज्यों में नकली दवाइयां और मादक पदार्थ तस्करी के जरिये लाई जा रही है जो मुख्य रूप से यूवाओं को आकर्षित करती आ रही है। हाल में क्षेत्र के कई हिस्सों से ऐसी भी शिकायत आई थीं कि सॉफ्ट ड्रिंक पीने के बाद कुछ लोग बेहोश हो गए थे, बाद में उनको अस्पताल में भी भर्ती कराना पड़ा था। इसकी वजह से सॉफ्ट ड्रिंक की बिक्री में भी कमी आई थी। सरहद पार से विदेशी तस्करों द्वारा सॉफ्ट ड्रिंक की भी तस्करी की जा रही है ।भारत और म्यांमार के बीच वैधानिक तौर जिन वस्तुओं का व्यापार हो सकता है उनमें नूडल्स शामिल नहीं है। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक ये ‘विदेशी’ नूड्ल्स पापुलर ब्रैंड का झांसा देकर कुछ जालसाज़ कारोबारी बना रहे हैं और लोगों को भ्रमित कर रहे है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: