पटाखा कारखाने में आग लगने से 20 मजदूरों की जिंदा जलने से मौत, 10 अन्य झुलसे

पटाखा कारखाने में आग लगने से 20 मजदूरों की जिंदा जलने से मौत, 10 अन्य झुलसे
पटाखा कारखाने में आग लगने से 20 मजदूरों की जिंदा जलने से मौत, 10 अन्य झुलसे

यहां कोतवाली पुलिस थानांतर्गत खेरी गांव में एक पटाखा कारखाने में आज दोपहर अचानक आग लगने से 20 मजदूरों की जिंदा जलने से मौत हो गई, जबकि 10 अन्य लोग झुलस गये। घायलों में दो की हालत गंभीर है।

अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक जी जर्नादन ने ‘भाषा’ को बताया कि कोतवाली पुलिस थाना क्षेत्र में स्थित कारखाने में दोपहर लगभग तीन बजे आग लगी। यह जगह जिला मुख्यालय से लगभग 10 किलोमीटर दूर है।

उन्होंने बताया, ‘‘कारखाने में आग लगने से 20 लोग मारे गये और 10 लोग घायल हुये हैं। घायलों में से आठ को उपचार के लिये नागपुर भेजा गया है। इनमें दो की हालत गंभीर है।’’ जर्नादन ने कहा कि शेष दो बचे घायलों का उपचार जिला अस्पताल में किया जा रहा है।

बालाघाट के कलेक्टर भरत यादव ने बताया कि यह आग वारिस अहमद की पटाखा फैक्टरी में लगी। यह लाइसेंस वाली फैक्टरी थी। हादसा उस वक्त हुआ, जब ये मजदूर फैक्टरी में काम कर रहे थे।

यादव ने कहा कि आग लगने का असली कारण अब तक पता नहीं चल पाया है। हो सकता है कि किसी मजदूर ने बीड़ी पीने के बाद वहां फंेक दी हो।

उन्होंने कहा कि अब आग को बुझा दिया गया है। जहां फैक्टरी थी, उस इलाके में आवासीय इलाका नहीं था।

यादव ने बताया कि आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है तथा घायलों का इलाज शासकीय व्यय पर किया जायेगा।

( Source – PTI )

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: