अमेरिकी चर्च पर हुए हमले में एक संदिग्ध आरोपी गिरफ्तार

150618052707_charleston_church_shooting_624x351_reutersअमेरिकी चर्च पर हुए हमले में एक गिरफ्तार
वॉशिंगटन,। अमेरिका के साउथ कैरोलाइना के चर्च में गोलीबारी के मामले में पुलिस ने 21 साल के एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है। चार्ल्सटन में वारदात के करीब 13 घंटों बाद डिलैन रूफ नाम के युवक को हिरासत में लिया गया जिसमें नौ लोगों की मौत हो गई है ।पुलिस ने चर्च पर हमले के बाद आरोपी को पकड़ने के लिए घटना का सीसीटीवी फुटेज जारी किया था। इसके साथ ही पुलिस ने चार्ल्सटन पुलिस ने ट्वीट करके संदिग्ध आदमी का हुलिया और कपड़ों के बारे में भी जानकारी देते हुए कहा कि वह काले रंग की एक गाड़ी से भाग निकला था । पुलिस के मुताबिक, सर्विलांस के दौरान जो तस्वीर जारी की गई उसे आरोपी के अंकल ने पहचाना। आरोपी के अंकल ने बताया कि जिस हैंडगन के जरिए उसने वारदात को अंजाम दिया है वह उसे बर्थडे गिफ्ट के रूप में मिली थी।वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि दुनिया के किसी अन्य विकसित देश में इस तरह के घटनाएं बार-बार नहीं होतीं। गौरतलब है कि स्थानीय समय के मुताबिक रात नौ बजे जब गोलीबारी हुई तब चर्च में एक सभा चल रही थी। चर्च की पादरी, राज्य की सीनेटर क्लेमेन्टा पिनकनी भी इस घटना में मारी गई हैं। घटना में कुल 9 लोगों की मौत हुई है।19वीं सदी में बना एमानुएल अफ्रीकन मेथडिस्ट एपिस्कोपल चर्च अमेरिका के सबसे पुराने चर्चों में से एक है. इसके संस्थापकों में से एक डेनमार्क वर्सी 1822 में हुए विफल गुलाम विद्रोह के नेता थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: