बांधवगढ़ में बाघ का शावक मृत पाया गया

बांधवगढ़ में बाघ का शावक मृत पाया गया
बांधवगढ़ में बाघ का शावक मृत पाया गया

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बाघ का एक शावक मरा पाया गया है जो इस रिजर्व में एक माह के भीतर इस तरह की तीसरी मौत है।

एक अधिकारी ने बताया कि एक वयस्क बाघ ने तीन माह के शावक पर हमला कर दिया। इससे उसकी मौत हो गई।

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के उपसंचालक के.पी. बांगर ने आज ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘बाघिन द्वारा किये गए शिकार को खाने को लेकर शावक की मां और एक बाघ में लड़ाई हुई और इस लड़ाई में शावक की कल मौत हो गई।’’ उन्होंने कहा कि यह घटना टाइगर रिजर्व के कोर एरिया अंतर्गत कल्ल्वाह परिक्षेत्र में हुई।

बांगर ने बताया कि बाघ से लड़ रही इस बाघिन ने तीन माह पूर्व दो शावकों को जन्म दिया था, जिनमें से एक शावक को बाघ ने बाघिन के साथ हुई लड़ाई में मौत के घाट उतार दिया।

उन्होंने कहा कि प्रबंधन ने मृत शावक का पोस्टमॉर्टम कराकर उसका कंकाल जला दिया है।

वहीं, ग्वालियर चिड़ियाघर में मध्यप्रदेश की सबसे उम्रदराज मादा तेंदुआ की कल मौत हो गई। इसे रानी के नाम से जाना जाता था। बीमारी के चलते इसने पिछले तीन-चार दिन से खाना-पीना छोड़ दिया था।

ग्वालियर चिड़ियाघर प्रभारी प्रदीप श्रीवास्तव ने बताया कि रानी का जन्म 1991 में हुआ था और यह इस चिड़ियाघर की मुख्य आकषर्ण का केन्द्र थी।

श्रीवास्तव ने दावा किया कि यह मध्यप्रदेश में सबसे उम्रदराज तेंदुआ थी।

( Source – PTI )

Leave a Reply

%d bloggers like this: