‘गतिशील द्वितीयक बाजार, खरीद-फरोख्त सुविधा से बांड बाजार विकास में मदद मिलेगी’

‘गतिशील द्वितीयक बाजार, खरीद-फरोख्त सुविधा से बांड बाजार विकास में मदद मिलेगी’
‘गतिशील द्वितीयक बाजार, खरीद-फरोख्त सुविधा से बांड बाजार विकास में मदद मिलेगी’

बाजार नियामक सेबी के पूर्णकालिक सदस्य जी महालिंगम ने आज कहा कि गतिशील द्वितीयक बाजार और बेहतर खरीद-फरोख्त सुविधा उपलब्ध होने से कारपोरेट बांड बाजार के विकास में मदद मिलेगी और आर्थिक वृद्धि को बल मिलेगा।

महालिंगम ने यहां उद्योग मंडल एसोचैम के एक कार्य्रकम में यह बात कही।

उन्होंने कहा, ‘बांड बाजार का विकास किसी अर्थव्यवस्था के विकास से जुड़ा है क्योंकि इससे पूंजी प्रवाह बचत क्षेत्र से वहां जाता है जहां इसकी जरूरत होती है।’ उन्होंने कहा कि पारंपरिक रूप से भारत में सरकारी प्रतिभूतियों को केवल मात्र उच्च गुणवत्ता वाली नकदी आस्तियां माना जाता है लेकिन समय के साथ कारपोरेट बांड भी उच्च गुणवत्ता वाली नकदी आस्तियां बन जाएंगी।

महालिंगम ने कहा कि लोग इन निवेश साधनों की जरूरत को पहचानने लगे हैं हालांकि, इसके लिये द्वितीयक बाजारों में बॉंड खरीद-फरोख्त की बेहतर व्यवस्था जरूरी है।

( Source – PTI )

Leave a Reply

%d bloggers like this: