‘दिल्ली हवाई अड्डे पर विमानों की आवाजाही बढाने पर विचार’

‘दिल्ली हवाई अड्डे पर विमानों की आवाजाही बढाने पर विचार’
‘दिल्ली हवाई अड्डे पर विमानों की आवाजाही बढाने पर विचार’

यहां स्थित अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर यात्रियों की बढ़ती संख्या के बीच अधिकारी विमानों की आवाजाही को अगले तीन साल में 40 प्रतिशत बढ़ाकर 95 प्रति घंटा करने पर काम कर रहे हैं।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने आज यह जानकारी दी। इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की कुल क्षमता बढाने को लेकर भागीदारों के साथ चर्चा के बाद सिन्हा ने कहा कि हवाई अड्डे पर विमानों की आवाजाही संख्या बढाने को लेकर ‘मजबूत कामकाजी परिकल्पना’ है।

किसी विमान के उतरने या उड़ान भरने को एक विमान परिचालन माना जाता है।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा हवाई अड्डे से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर विचार करने के लिए एक उड़ान परिचालन समिति गठित की जाएगी। इस समिति की बैठक हर महीने होगी।

सिन्हा ने कहा कि दिल्ली हवाई अड्डे के मास्टर प्लान का पुनर्आकलन किया जा रहा है और ब्रिटेन की कंपनी एनएटीएस इस बात पर विचार कर रही है कि अगले दो से तीन साल में विमान आवाजाही को कैसे बढाया जा सके।

नागर विमानन राज्यमंत्री सिन्हा ने कहा, ‘हम इस (विमान आवाजाही) को अगले दो तीन साल में बढाकर 95 प्रति घंटा कर सकते हैं। हमारा मानना है कि यह बहुत व्यावहारिक है।’

( Source – PTI )

Leave a Reply

%d bloggers like this: