Posted On by &filed under राजनीति.


जीएसएम-शिवसेना ने संयुक्त घोषणा पत्र जारी किया

जीएसएम-शिवसेना ने संयुक्त घोषणा पत्र जारी किया

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बागी सुभाष वेलींगकर नीत गोवा सुरक्षा मंच :जीएसएम: और शिवसेना ने गोवा चुनाव के लिए अपने संयुक्त चुनाव घोषणा पत्र में तटीय राज्य में ‘इलेक्ट्रॉनिक डांस म्यूजि़क’ :ईडीएम: उत्सवों पर प्रतिबंध लगाने और चरणबद्ध तरीके से अंग्रेजी माध्यम स्कूलों को सरकारी अनुदान खत्म करने का वायदा किया है।

राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव से करीब एक हफ्ते पहले आज जारी जीएसएम और शिवसेना के संयुक्त चुनाव घोषणा पत्र में कहा गया है, ‘‘ प्राथमिक अंग्रेजी माध्यम स्कूलों को मिलने वाले सरकारी अनुदान को शैक्षणिक सत्र 2017-18 से चरणबद्ध तरीके से खत्म करेंगे। मराठी, कोंकणी और अन्य भारतीय भाषाओं के प्राथमिक स्कूलों को अतिरिक्त विशेष प्रोत्साहन दिए जाएंगे।’’ जीएसएम ‘भारतीय भाषा सुरक्षा मंच’ :बीबीएसएम: की एक शाखा है जिसका गठन तब किया गया था जब भाजपा ने अंग्रेजी माध्यम स्कूलों को सरकारी अनुदान खत्म करने की उनकी मांग को मानने से इनकार कर दिया था।

जीएसएम शिवसेना और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी :एमजीपी: के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ रही है और इसने यह भी आश्वासन दिया है कि गोवा में रैव पार्टियों और इलेक्ट्रोनिक डांस म्यूजि़क उत्सवों को प्रतिबंधित किया जाएगा।

जीएसएम-शिवसेना ने मादक पदार्थ के बढ़ते खतरे से लड़ने का भी वायदा किया है जिसमें केंद्र की मदद से और कड़े कानून बनाए जाएंगे और मादक पदार्थ के जाल को फैलने से रोकने के लिए एक विशेष नार्कोटिक प्रकोष्ठ बनाया जाएगा।

एक अन्य आश्वासन में जीएसएम-शिवसेना ने कहा है कि मंत्रियों और उच्च अधिकारियों की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की संख्या को घटाया जाएगा ताकि राज्य में अपराधों की रोकथाम और कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए अधिक पुलिसकर्मी उपलब्ध हो सकें।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *