Posted On by &filed under अपराध.


मोरों की हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई

मोरों की हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई

पीपुल फॉर एनीमल्स संस्था ने 13 मादा मोरों की हत्या की घटनाओं की प्राथमिकी अजमेर पुलिस अधिक्षक के जरिये ई-मेल एवं रजिस्टर्ड डाक से दर्ज कराई है।

पीपुल फॉर एनीमल्स के प्रदेश प्रभारी बाबूलाल जाजू ने अजमेर जिले के पुष्कर तहसील के सूरजकुंड गांव के कुकडेरवर महादेव मंदिर के सामने 13 मादा मोरों की हत्या के लिये वन विभाग की घोर लापरवाही और ढीली-ढाली कार्यप्रणाली को जिम्मेदार ठहराया।

जाजू ने कहा कि उक्त 13 मादा मोरों की मृत्यु पेस्टीसाईड से होना बताया जा रहा है जो सदिग्ध है। मोरों की हत्या जहरीला दाना डालकर की गई हैं।

जाजू ने मोरों की मौत की जांच की मांग करते हुए कहा कि पोस्टमार्टम के नाम पर हमेशा मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता हैं जो गलत है।

उन्होंने कहा कि पिछले 2 वर्ष में अजयपाल वन क्षेत्र में 15, मांगलियावास में 15, देवलीकला में 24, अजगरा में 12, भिनाय में 6, नापाखेडा में 3, मसूदा में 40, भैरूखेडा में 21 और पीसागन में 8 मोर सहित कुल 135 मोरों को जहरीला दाना देकर मारा गया है। इनकी प्राथमिकी उन्होंने दर्ज कराई है। इसके बावजूद वन और पुलिस विभाग इसकी अनदेखी कर रहे हंै।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *