Posted On by &filed under खेल, खेल-जगत.


आस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 में भी जीत की लय बरकरार रखने उतरेंगे विराट के वीर

आस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 में भी जीत की लय बरकरार रखने उतरेंगे विराट के वीर

वनडे में आस्ट्रेलिया पर शानदार जीत दर्ज करने के बाद आत्मविश्वास से ओतप्रोत भारतीय क्रिकेट टीम कल से यहां शुरू हो रही टी20 श्रृंखला में भी जीत की उसी लय को बरकरार रखने के इरादे से उतरेगी।

विराट कोहली की टीम ने इस सत्र में अपना शानदार प्रदर्शन बरकरार रखते हुए आस्ट्रेलिया को वनडे श्रृंखला में 4 . 1 से हराकर नंबर वन के सिंहासन पर कब्जा कर लिया था। टी20 रैंकिंग में पांचवें स्थान पर काबिज भारत का लक्ष्य अब कल से जेएससीए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम पर शुरू हो रही तीन मैचों की श्रृंखला में क्लीन स्वीप करके अपनी रैंकिंग बेहतर करना होगा ।

दूसरी ओर आस्ट्रेलियाई टीम का लक्ष्य भारत के हाथों 2016 टी20 विश्व कप में मिली हार का बदला चुकता करना होगा । भारत ने आस्ट्रेलिया को सात विकेट से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई थी और उस मैच में विराट कोहली ने 51 गेंद में नाबाद 82 रन बनाकर आस्ट्रेलिया का बोरिया बिस्तर टूर्नामेंट से बांध दिया था ।

भारतीय टीम में 38 बरस के अनुभवी तेज गेंदबाज आशीष नेहरा की वापसी हुई है जिन्होंने आखिरी अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच फरवरी में खेला था । वेस्टइंडीज और श्रीलंका के खिलाफ उन्हें मौका नहीं दिया गया था । उनके साथ ही विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक को रिषभ पंत पर तरजीह दी गई है । श्रीलंका के खिलाफ टी20 खेलने वाली टीम में से तेज गेंदबाज शारदुल ठाकुर और बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे को बाहर किया गया है ।

रहाणे को नहीं चुना जाना हालांकि हैरत का सबब रहा जिन्होंने वनडे श्रृंखला में चार अर्धशतक जमाये थे हालांकि उन्होंने आखिरी टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच पिछले साल अगस्त में खेला था । नियमित सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने टीम में वापसी की है जो पत्नी की सर्जरी के कारण वनडे श्रृंखला से बाहर रहे थे । उनसे और रोहित शर्मा से भारत को उम्दा शुरूआत की उम्मीद होगी चूंकि रोहित शानदार फार्म में है जिन्होने वनडे श्रृंखला में पांच मैचों में एक शतक और दो अर्धशतक समेत करीब 60 की औसत से सर्वाधिक 296 रन बनाये ।

कप्तान विराट कोहली ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछली चार टी20 पारियों में नाबाद 90, नाबाद 59, 50 और नाबाद 82 रन बनाकर अपना दबदबा साबित कर दिया है । उनकी कप्तानी में भारत ने वैसे भी पिछले 23 टी20 मैचों में से 17 जीते हैं ।

वनडे श्रृंखला में प्लेयर आफ द टूर्नामेंट रहे हरफनमौला हार्दिक पंड्या भारत के लिये एक्स फैक्टर साबित हो सकते हैं । पंड्या ने पांच मैचों में दो अर्धशतक समेत 222 रन बनाये और छह विकेट भी लिये थे । चेन्नई में पहले वनडे में उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी के साथ मिलकर भारत को शुरूआती संकट से निकालकर जीत तक पहुंचाया ।

इंदौर में पंड्या को बल्लेबाजी क्रम में चौथे स्थान पर भेजा गया और कप्तान के भरोसे पर खरे उतरते हुए उन्होंने 78 रन बनाये । लोकेश राहुल , केदार जाधव और मनीष पांडे पर मध्यक्रम को मजबूती देने की जिम्मेदारी होगी । धोनी से अपने शहर में खास पारी की उम्मीद दर्शकों को रहेगी ।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *