Posted On by &filed under खेल, खेल-जगत.


भारत ने न्यूजीलैंड से टी20 श्रृंखला भी जीती

भारत ने न्यूजीलैंड से टी20 श्रृंखला भी जीती

जसप्रीत बुमराह और युजवेंद्र चहल की कसी हुई गेंदबाजी के दम पर भारत ने आज यहां न्यूजीलैंड को बारिश से प्रभावित तीसरे और निर्णायक टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में छह रन से हराकर श्रृंखला 2-1 से अपने नाम की।

बारिश और आउटफील्ड गीली होने के कारण मैच लगभग ढाई घंटे देरी से शुरू हुआ और इसलिए प्रत्येक टीम के लिये ओवरों की संख्या घटाकर आठ कर दी गयी।

पहले बल्लेबाजी का न्यौता पाने वाले भारत ने पांच विकेट पर 67 रन बनाये। उसकी तरफ से मनीष पांडे ने 17, हार्दिक पंड्या ने नाबाद 14 और कप्तान विराट कोहली ने 13 रन का योगदान दिया। भारतीय पारी में केवल चार चौके और तीन छक्के लगे। न्यूजीलैंड की तरफ से टिम साउथी और ईश सोढ़ी ने दो . दो जबकि ट्रेंट बोल्टने एक विकेट लिया।

भारतीय गेंदबाजों ने इसके बाद कीवी बल्लेबाजों को खुलकर नहीं खेलने दिया जिन्होंने अपने कोटे के आठ ओवरों में छह विकेट पर 61 रन बनाये। भारत के लिये जसप्रीत बुमराह ने दो ओवर में नौ रन देकर दो विकेट लिये जबकि युजवेंद्र चहल ने अपने दो ओवरों में केवल आठ रन दिये। न्यूजीलैंड के लिये कोलिन डि ग्रैंडहोम ने सर्वाधिक नाबाद 17 रन बनाये। उसकी तरफ से भी तीन छक्के और तीन चौके लगे।

इस हार से न्यूजीलैंड आईसीसी टी20 रैंकिंग में शीर्ष स्थान से भी हट गया और उसकी जगह पाकिस्तान नंबर एक पर काबिज हो गया है। पहले इन दोनों टीमों के समान 124 अंक थे लेकिन कीवी टीम दशमलव में गणना में आगे थी। न्यूजीलैंड के अब 120 अंक रह गये हैं और वह दूसरे स्थान पर खिसक गया है। भारत के 119 अंक हो गये हैं लेकिन वह पहले की तरफ पांचवें स्थान पर है।

कोलिन मुनरो (सात) ने भुवनेश्वर कुमार पर छक्के से शुरूआत की लेकिन मार्टिन गुप्टिल (एक) की खराब फार्म बरकरार रही। भुवनेश्वर ने उन्हें पहले ओवर में ही बोल्ड करके भारतीयों में जोश भरा। बुमराह के अगले ओवर में रोहित शर्मा ने लंबी दौड़ लगाकर मुनरो की हवा में उछाली गयी गेंद को बड़ी खूबसूरती से कैच में बदलकर स्कोर दो विकेट पर आठ रन कर दिया।

कप्तान केन विलियमसन (आठ) रन आउट हो गये जबकि शिखर धवन ने ग्लेन फिलिप्स (11) को सीमा रेखा पर कैच किया। ग्रैंडहोम ने कुलदीप के इसी ओवर में छक्का लगाया जिससे न्यूजीलैंड को आखिरी तीन ओवरों में 32 रन की दरकार थी लेकिन चहल ने अगले ओवर में केवल तीन रन दिये जिससे कीवी टीम पर दबाव बन गया। इसके बाद भी विकेट गिरते रहे और आखिरी छह गेंदों पर न्यूजीलैंड के सामने 19 रन का लक्ष्य था। ग्रैंडहोम ने पंड्या पर छक्का लगाया लेकिन इससे वह हार का अंतर ही कम कर पाये। इससे पहले बोल्ट ने शुरूआती ओवर में अपनी स्विंग से बल्लेबाजों को परेशानी में डाला तो बायें हाथ के स्पिनर मिशेल सैंटनर ने भी उन्हें खुलकर नहीं खेलने दिया। एडम मिल्ने की जगह टीम में लिये गये साउथी ने तो आते ही दोनों ओपनरों को पवेलियन की राह दिखा दी।

शिखर धवन (छह) ने उनकी आफ कटर हवा में उछाली और सैंटनर पर प्वाइंट से पीछे भागते हुए उसे कैच कर दिया। अगली गेंद भी आफ कटर थी और रोहित शर्मा (आठ) ने उसे डीप स्क्वायर लेग की तरफ उछाला था जहां सैंटनर ने फिर से खूबसूरत कैच लपका। कप्तान कोहली ने सोढ़ी पर चौके और छक्के से शुरूआत की लेकिन इसी ओवर में डीप मिडविकेट पर कैच दे बैठे। जिससे भारत का स्कोर तीन विकेट पर 30 रन हो गया।

पांडे ने सोढ़ी के अगले ओवर में गेंद लांग आन पर छह रन के लिये भेजी लेकिन यह लेग स्पिनर इसी ओवर में श्रेयस अय्यर (छह) को पवेलियन भेजने में सफल रहा। पांडे को आउट करने में भी सैंटनर ने अहम भूमिका निभायी। उन्होंने दौड़ लगाकर कैच लिया लेकिन संतुलन नहीं बना पाने के कारण उसे पास में खड़े कोलिन डि ग्रैंडहोम की तरफ उछाल दिया। इस बीच पंड्या छठे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये उतरे और उन्होंने सैंटनर की एक ढीली गेंद को लांग आन पर छह रन के लिये भेजकर दर्शकों को रोमांचित किया।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *