Posted On by &filed under आर्थिक.


इंडिगो की विस्तार के लिये एयर इंडिया पर नजर

इंडिगो की विस्तार के लिये एयर इंडिया पर नजर

एयरलाइंस बाजार में 40 प्रतिशत हिस्सेदारी रखने वाली देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी इंडिगो ने वृद्धि को लेकर महत्वकांक्षी योजना बनायी है जहां एयर इंडिया उसके विस्तार के लिये उपयुक्त जमीन उपलब्ध करा सकती है।

इंडिगो ने एयर इंडिया की अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के अधिग्रहण में रचि दिखाते हुए नागर विमानन मंत्रालय को पत्र लिखकर एयर इंडिया के अंतरराष्ट्रीय परिचालन व इसकी इकाई एयर इंडिया एक्सप्रेस को खरीदने की इच्छा जतायी है।

अगस्त 2006 में अस्तित्व में आयी इंडिगो लाभ में है और उसने सबसे अधिक 450 विमानों का आर्डर दे रखा है। इसकी आपूर्त िआने वाले साल में होने की उम्मीद है।

इंटरग्लोब एविएशन द्वारा संचालित एयरलाइंस घरेलू और विदेशी गंतव्यों के लिये रोजाना 900 से अधिक उड़ानों का परिचालन करती है। गुड़गांव स्थित कंपनी इंडिगो ने 1.3 अरब डालर के 50 एटीआर टर्बो-प्रोप विामनों की खरीद की योजना की घोषणा की है। कंपनी ने क्षेत्रीय विमानन बाजार में संभावित उच्च वृद्धि को देखते हुए यह आर्डर दिया है।

कंपनी अब एयर इंडिया के उड़ान परिचालन को खरीदने में रूचि दिखाकर सुखर्यिों में है। इंडिगो ने एयर इंडिया की अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के अधिग्रहण में रचि दिखाते हुए नागर विमानन मंत्रालय को पत्र लिखा है। कंपनी ने एयर इंडिया के अंतरराष्ट्रीय परिचालन व इसकी इकाई एयर इंडिया एक्सप्रेस को खरीदने में रचि है।

पत्र में उसने कहा है कि अगर यह संभव नहीं होता है तो वह एयर इंडिया के घरेलू परिचालन सहित समूचे परिचालन को खरीदना चाहेगी।

नागर विमानन मंत्रालय को यह पत्र मंóािमंडल के एयर इंडिया के विनिवेश के फैसले के बाद भेजा गया है।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *