IPS अधिकारी का भाई बना आतंकी, पुलिस जवान भी हिजबुल मुजाहिदीन में हुआ शामिल

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन ने अपने पूर्व कमांडर बुरहान वानी की बरसी के मौके पर 20 से अधिक नये आतंकी युवकों की तस्वीर जारी की है। इसमें शम्स-उल-हक नाम का शख्स भी शामिल है, जोकि पूर्व आईपीएस अधिकारी का भाई है। वह इसी साल मई में अपने घर से लापता हो गया था।हिबुजल मुजाहिदीन ने सोशल नेटवर्किंग साइटों पर जो फोटो पोस्ट की हैं, उनमें युवक हथियार से लैस नजर आ रहे हैं। साथ ही उनके रैंक भी दिये गये हैं। एक पुलिस अफसर ने मीडिया से बातचीत में बताया, ‘आज जिनकी तस्वीरें सामने आई हैं, इनके बारे में हमारे पास पहले से इनपुट्स थे।’हिज्बुल द्वारा जारी आतंकियों की फोटों में शम्स-उल-हक के अलावा वसीम अहमद रादर, तौसीफ अहमद ठोकर, इरफान राशिद डार और फिरोज अहमद डार भी शामिल हैं। वसीम अहमद रादर दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम का रहने वाला है। अंग्रेजी में मास्टर्स डिग्री करने के बाद वह डॉक्टरेट कर रहा था। वहीं तौसीफ अहमद ठोकर अवंतीपुरा का रहने वाला है। उसने गणित में मास्टर्स की डिग्री ली है। आतंकी संगठन में शामिल होने वालों में एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर इरफान राशिद डार भी है। वह 27 जून को पंपोर स्थित पुलिस स्टेशन से अपनी सर्विस राइफल के साथ फरार हो गया था।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *

Captcha verification failed!
CAPTCHA user score failed. Please contact us!