Posted On by &filed under दिल्ली, राजनीति.


आरएसएस के हाथों में खेल रहे हैं केजरीवाल और सिसोदिया - माकन

आरएसएस के हाथों में खेल रहे हैं केजरीवाल और सिसोदिया – माकन

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने आम आदमी पार्टी :आप: की अंदरूनी कलह को भाजपा प्रायोजित बताते हुये आज आरोप लगाया कि आप भाजपा की ही ‘‘बी टीम’’ है और पार्टी के दोनों शीर्ष नेता अरविंद केजरीवाल एवं मनीष सिसोदिया आरएसएस की कठपुतली हैं। माकन ने निगम चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवारों के साथ बैठक के बाद कहा कि आप की कलह की पटकथा भाजपा और आरएसएस ने लिखी है। इसकी पुष्टि आप विधायक अमानतुल्ला खान द्वारा कुमार विश्वास को आरएसएस का एजेंट बताये जाने से होती है। उन्होंने कहा कि इससे साफ है कि सिर्फ कुमार विश्वास ही नहीं केजरीवाल और सिसोदिया भी आरएसएस के हाथों में खेल रहे हैं।

माकन ने कहा कि चुनाव के दौरान आप हमेशा कांग्रेस के परंपरागत वोटबैंक में सेंधमारी करने की कोशिश करती है जिसका सीधा लाभ भाजपा को होता है। उन्होंने दावा किया कि आप और भाजपा की आपसी मिलीभगत की यह कोशिश नाकाम रही है क्योंकि निगम चुनाव में कांग्रेस का मत प्रतिशत 9 प्रतिशत से बढ़कर 22 प्रतिशत तक पहुंचने का मतलब साफ है कि पार्टी का परंपरात वोट बैंक उसके पास वापस आ गया है।

इससे पहले बैठक में कांग्रेस के नवनियुक्त पाषर्दों और हारे उम्मीदवारों ने चुनाव में पार्टी के ही नेताओं द्वारा भितरघात करने की शिकायत की। इस पर माकन ने उम्मीदवारों से चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहे ऐसे नेताओं का नाम पार्टी की अनुशासन समिति को बताने के लिये कहा है। माकन ने भितरघात का शिकार हुये उम्मीदवारों से अनुशासन समिति के समक्ष पांच मई तक शिकायतें सौंपने को कहा है। शिकायत की जांच में समिति द्वारा पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल पाये गये नेताओं के खिलाफ माकूल कार्रवायी की जायेगी।

माकन ने कहा कि अपने ही कुछ नेताओं की पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण कांग्रेस निगम चुनाव में तीसरे स्थान पर रही। पार्टी को तीनों नगर निगम की 270 सीटों में से सिर्फ 30 सीटों पर जीत मिल सकी। समिति ने पार्टी नेताओं के खिलाफ मिली शिकायतों की जांच शुरू कर दी है।

इस बीच निगम चुनाव के दौरान टिकट वितरण को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित सहित पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं की माकन के विरद्ध बयानबाजी को चुनावी हार के कारणों में शामिल करते हुये इससे कांग्रेस हाईकमान को अवगत करा दिया गया है। माकन ने कहा कि पार्टी हाईकमान ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद उन्हें बतौर प्रदेश अध्यक्ष काम करते रहने को कहा है। माकन ने चुनाव परिणाम आने पर अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *