Posted On by &filed under राष्ट्रीय.


घुटना इम्प्लांट सस्ता करने के कदम का विशेषज्ञों ने किया स्वागत, गुणवत्ता पर भी ध्यान देने की मांग की

घुटना इम्प्लांट सस्ता करने के कदम का विशेषज्ञों ने किया स्वागत, गुणवत्ता पर भी ध्यान देने की मांग की

कृत्रिम नी इम्प्लांट सस्ते होने की सरकार की घोषणा का स्वागत करते हुए विशेषज्ञों ने आज कहा कि कृत्रिम इम्प्लांट के दाम सीमित करने के फैसले से मध्यम और निम्न आय वर्ग के लोगों को फायदा होगा, लेकिन यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि दाम घटाने से कृत्रिम घुटना प्रतिरोपण की गुणवत्ता प्रभावित नहीं हो।

इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल के वरिष्ठ ज्वाइंट रिप्लेसमेंट एवं आर्थोपेडिक्स सर्जन डॉ राजू वैश्य ने कहा कि इस फैसले से मध्यम एवं निम्न आय वर्ग के लोगों को फायदा होगा और वे खराब हो चुके अपने जोड़ों को सही समय पर बदलवा सकेंगे तथा दर्द से राहत पा सकेंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन साथ ही साथ यह सुनिश्चित किया जाना जरूरी है कि इम्प्लांटों के दाम घटने के कारण उनकी गुणवत्ता प्रभावित न हो।’’ डॉ वैश्य ने कहा कि कई बार लोग पैसे के चलते खराब हो चुके जोड़ों को बदलवाने का ऑपरेशन टालते रहते हैं जिसके कारण उनके जोड़ ज्यादा खराब होते जाते हैं और वे दर्द एवं कष्ट से भरा जीवन जीने को विवश होते हैं। अगर घुटने बदलवाना सस्ता हो जाए तो अधिक से अधिक लोग समय पर जोड़ बदलवाने की सर्जरी करा सकेंगे और सक्रिय जीवन जी सकेंगे।

पारस हेल्थकेयर के डॉ धर्मेंद्र नागर ने घुटना इम्प्लांट की कीमत कम करके सीमित करने के एनपीपीए के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि इससे अधिक से अधिक जरूरतमंद लोग घुटना बदलवा सकेंगे जो पैसों की वजह से ऐसा नहीं करते थे।

उन्होंने भी यह सुनिश्चित करने की बात कही कि इस तरह के फैसले का गुणवत्ता मानकों पर नकारात्मक असर नहीं पड़ना चाहिए।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *