नीतीश ने ‘राजनीतिक आत्महत्या’ की है : लालू

नीतीश ने ‘राजनीतिक आत्महत्या’ की है : लालू
नीतीश ने ‘राजनीतिक आत्महत्या’ की है : लालू

प्रमुख ने के मुख्यमंत्री पर महागठबंधन से नाता तोड़ने को लेकर हमला करते हुए आज कहा कि से हाथ मिलाकर जदयू नेता नीतीश ने “राजनीतिक आत्महत्या” की है।

लालू ने पटना में आज संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा के साथ हाथ मिलाकर नीतीश ने “राजनीतिक आत्महत्या” की है।

लालू ने पटना में अपनी पत्नी राबडी देवी के दस सर्कुलर रोड आवास पर अपने छोटे पुत्र एवं पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के साथ पत्रकारों से बातचीत के दौरान यह बात कही। उन्होंने यह बात तेजस्वी प्रसाद यादव और उनके बड़े भाई तेज प्रताप यादव के राज्य में राजद के अभियान पर निकलने से एक दिन पहले कही।

दोनों भाई राजद के इस ‘’ के तहत जनता के बीच जाकर नीतीश पर ‘‘जनादेश के साथ विश्वासघात करने’’ के आरोप के बारे में बताएंगे और आगामी 27 अगस्त को पटना में राजद की प्रस्तावित रैली में शामिल होने के लिए जनता को आमंत्रित करेंगे। तेजस्वी पूर्वी चंपारण जिला मुख्यालय मोतिहारी से कल अपने इस अभियान की शुरूआत करेंगे। लालू ने महागठबंधन :जदयू—राजद—कांग्रेस: को छोड़कर भाजपा के साथ सरकार बनाने को लेकर नीतीश के लिए ‘मानसिंह’ और ‘रणछोड़’ जैसे कडे़ शब्दों का प्रयोग किया ।

लालू ने कहा कि ‘‘देश में कोई भी दल अब नीतिश पर विश्वास नहीं करेगा… वह राजनीतिक रूप से अब खत्म हो गये हैं।’’ उन्होंने दावा किया कि अगले लोकसभा चुनाव में नीतीश की पार्टी जदयू को दो से अधिक सीटें नहीं मिलेंगी क्योंकि भाजपा और राजग के अन्य घटक दल अपनी सीटें छोड़ने को तैयार नहीं होंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं हमेशा नीतीश कुमार को अपने से अधिक परिपक्व मानता था, लेकिन उन्होंने मुझे गलत साबित कर दिया…मुझे उसके लिए खेद है।’’ उपमुख्यमंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी द्वारा उनके परिवार और बालू माफिया सुभाष प्रसाद यादव के बीच गठजोड़ होने तथा सुभाष के राजद की आगामी 27 अगस्त को पटना में प्रस्तावित रैली के लिए धन राशि खर्च किए जाने के आरोप को खारिज करते हुए लालू ने कहा, ‘‘हमने रैली के लिए एक पैसा भी नहीं लिया है, प्रदेश की पिछली राजग सरकार में सुशील मोदी ने उन्हें अनुबंध दिया था।’’ उन्होंने कहा कि हमारे खिलाफ उनके द्वारा कहानियां गढ़ने दीजिये लेकिन हम उन्हें पटना में आगामी 27 अगस्त की रैली में उजागर करेंगे।

राजद सुप्रीमो ने हरियाणा में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के बेटे द्वारा एक लड़की का पीछा करने के मामले का जिक्र करते हुए आरोप लगाया कि भाजपा के प्रभाव वाले देश के विभिन्न भागों में “जंगल राज’ कायम है।

अब बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश पर प्रहार करते हुए कहा कि अब वह “महागठबंधन से बाहर होकर भाजपा के साथ हाथ मिलाने को लेकर बहाना ढूंढने में लगे हुए हैं।

( Source – PTI )

Leave a Reply

%d bloggers like this: