मायावती को बड़ा झटका , करीबी के निधन से बसपा में शोक की लहर

नई दिल्ली : बहुजन समाजवादी पार्टी के जाने-माने नेता गोंडा के पूर्व विधायक मोहम्मद जलील खां का गुरुवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। विधायक खान बसपा सुप्रीमों मायावती के बेहद खास माने जाते थे।मिली जानकारी के मुताबिक रमजान के मुबारक मौके के दौरान उन्होंने रोजा रखा था और बुधवार रात सहरी के वक्त उन्हें तेज सांस फूलने और सीने में दर्द की शिकायत हुई। परिजन तत्काल जिला अस्पताल लेकर पहुंचे जहां से एक निजी अस्पताल रेफर कर दिया। अस्पताल पहुँचाने के बाद डॉक्टरों ने उनका चेकअप किया और उन्हें मृत घोषित कर दिया।अक्समात ही अपने प्रिय नेता की मौत की खबर से सभी सन्न रह गए। जिले में शोक की लहर दौड़ गई है। मोहम्मद जलील खां बेहद मिलनसार और ईमानदार छवि वाले नेता माने जाते थे। विधायक के निधन से उनके पैतृक आवास पर लोगों का तांता लग गया है। आपको बता दें कि मायावती के बेहद ही करीबी रहे जलील खां पहली बार बसपा के टिकट से गोंडा सदर से 2007 में विधायक चुने गए थे।

विधायक बनने के बाद अपने पांच साल के कार्यकाल में ठेके पट्टे के कमीशन से दूर रहे। वर्ष 2012 में उन्हें बसपा से टिकट नहीं मिला तो उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा लेकिन उन्हें हार का मुह देखना पड़ा। फिर बसपा सुप्रीमो ने उन्हें वापस बुलाया और फिर 2017 में टिकट दिया। लेकिन इसमें भी वे हार गए।इसके बावजूद उनकी गिनती कद्दावत नेताओं में होती है। अपनी मौत के बाद वो अपने पीछे चार पुत्र और एक पुत्री छोड़ गए हैं। उनके निधन की खबर मिलने के बाद उनके पैतृक आवास जमुनिया बाग मुगलजोत खोरहंसा आवास पर भारी भीड़ जुटी है।

Leave a Reply

43 queries in 0.170
%d bloggers like this: