Posted On by &filed under राजनीति.


unitजहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 66 हुई
मुंबई,। मुंबई उपनगरीय क्षेत्र मलाड में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 66 हो गई है जबकि 30 अन्य लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है । मुख्यमंत्री देवेंद्र फडऩवीस ने अधिकारियों को घटना की जांच करने और दो दिनों में रिपोर्ट देने का आदेश दिया है ।पुलिस आयुक्त राकेश मारिया के अनुसार, पूरे मामले की जांच अपराध शाखा को सौंप दी गई है। लापरवाही के आरोप में मालवणी पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक प्रकाश पाटिल सहित आठ पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।मुंबई पुलिस के प्रवक्ता धनंजय कुलकर्णी ने बताया कि मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आइपीसी) की कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि पकड़े गए लोगों में राजू हनुमंता पास्कर, डोनाल्ड राबर्ट पटेल और गौतम हर्ते शामिल हैं। यह घटना मलाड में गामदेवी जुरासिक पार्क के नजदीक लक्ष्मी नगर की झुग्गी बस्ती की है। यहां बुधवार रात इन झुग्गी बस्तियों में रहने वाले कुछ लोगों ने वहां के स्थानीय बार में जाकर जहरीली शराब पी थी। गुरुवार की सुबह तक इनमें से अधिकतर लोगों के पेट में दर्द होने, आंखों में जलन एवं उल्टियां होने लगी थीं। परिवार के लोग उन्हें लेकर निकट के अस्पतालों की ओर भागे लेकिन उनमें से कुछ की मौत तो रास्ते में ही हो गई थी।गिरफ्तार लोगों ने पड़ोसी जिले ठाणे के वसई-विरार क्षेत्र से लाकर जहरीली शराब की आपूर्ति उस बार को की थी, जहां शराब पीने के बाद लोग बीमार पड़े। इस मामले में एक महिला पर भी संदेह जताया जा रहा है। मुंबई में जहरीली शराब से मरने की यह दूसरी बड़ी घटना है। इससे पहले दिसंबर, 2004 में भी जहरीली शराब पीकर 87 लोग मारे गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *