Posted On by &filed under अपराध, राष्ट्रीय.


पुलिस अधिकारी की पीट-पीट कर हत्या की घटना शर्मनाक : महबूबा

पुलिस अधिकारी की पीट-पीट कर हत्या की घटना शर्मनाक : महबूबा

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने श्रीनगर की जामा मस्जिद के बाहर एक पुलिस अधिकारी की भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या किए जाने को Þशर्मनाक Þ करार दिया और कहा कि अगर पुलिस के सब्र का बांध टूट गया तो गंभीर प्रतिक््िरया हो सकती है।

महबूबा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर पुलिस देश में सबसे बेहतरीन पुलिस बल में से एक है और वह अधिकतम संयम का परिचय दे रही है।

उन्होंने कहा, Þ Þइससे :पुलिस अधिकारी की हत्या: शर्मनाक क्या हो सकता है। मैं यह कहना चाहती हूं कि जम्मू-कश्मीर पुलिस देश में सबसे बेहतरीन पुलिस बल में से एक है लेकिन वह अधिकतम संयम दिखा रही रही है क्योंकि उसे लगता है कि जम्मू-कश्मीर में वे अपने लोगों से निपट रहे हैं। Þ Þ मुख्यमंत्री ने कहा, Þ Þ परंतु, कितने समय तक? जिस दिन उनका सब्र खत्म हो गया उस दिन मुझे लगता है कि चीजें मुश्किल हो जाएंगी। मैं लोगों से अपील करती हूं कि अब भी समय है और हमें समझना चाहिए। पुलिस बल हमारा अपना बल है, वे हमारे बच्चे हैं और उनके साथ इस तरह का व्यवहार शर्मनाक है। Þ Þ जामा मस्जिद के बाहर भीड़ ने पुलिस उपाधीक्षक मोहम्मद अय्यूब पंडित की पीट-पीटकर हत्या कर दी।

महबूबा ने कहा कि अधिकारी निजी काम से मस्जिद नहीं गया था, बल्कि वह लोगों की जिंदगी की हिफाजत करने और अपनी ड्यूटी निभाने गया था।

उन्होंने कहा, Þ Þकुछ दिनों पहले एक एसएचओ और पांच पुलिसकर्मी मारे गए थे और अब यह डीएसपी..यह शर्मनाक घटना है। मैं लोगों से अपील करती हूं कि आप की हिफाजत करने वाले लोग आपको लेकर संयम दिखाते हैं, लेकिन आप उनके साथ इस तरह का व्यवहार करते हैं। अगर उनके सब्र का बांध टूट गया तो खुदा ना करे कि ऐसा समय जाए जब लोगों को सड़क पर पुलिस की जिप्सी देखकर भागना पड़े।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *