आतंकवाद के वित्त पोषण का मामला : एनआईए ने कश्मीर में तलाशी ली

आतंकवाद के वित्त पोषण का मामला : एनआईए ने कश्मीर में तलाशी ली
:

(एनआईए) ने अलगाववादियों और अन्य के खिलाफ दर्ज आतंकवाद के वित्त पोषण मामले में जम्मू-कश्मीर में आज करीब एक दर्जन स्थानों की तलाशी ली। इन स्थानों में विधान परिषद के पीडीपी सदस्य के रिश्तेदार का निवास भी शामिल है।

केन्द्रीय जांच एजेंसी के अधिकारियों का कहना है कि श्रीनगर, बारामुला, कुपवाड़ा, पुलवामा और हंदवाड़ा में करीब 12 जगहों पर तलाशी ली गयी।

उन्होंने बताया कि वकील शफी रेशी और जहूर वताली के परिसरों को भी खंगाला गया। शफी विधानपरिषद के एक पीडीपी सदस्य के रिश्तेदार हैं।

एनआईए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘इन तलाशियों के दौरान ढेरों अभियोजन योग्य सामग्री, संदिग्ध वित्तीय रिकार्ड, संपत्ति संबंधी कागजात, इलेक्ट्रोनिक उपकरण जैसे मोबाइल फोन, पेन ड्राइव, हार्ड ड्राइव आदि जब्त किये गये।’’ उन्होंने बताया कि जब्त दस्तावेजों में से कुछ संदिग्ध विदेशी स्रोतों से पैसे लेने और उसे कश्मीर घाटी में कुछ खास लोगों के बीच वितरित करने से जुड़े हैं। संदिग्धों से पूछताछ चल रही है।

एनआईए ने आतंकवाद के कथित वित्त पोषण और कश्मीर घाटी में अशांति को बढ़ावा देने संबंधी गतिविधियों में संलिप्तता के आरोप में 24 जुलाई को सात लोगों को गिरफ्तार किया था।

उसने आरोप लगाया था कि में अलगाववादी और आतंकवादी गतिविधियों के वित्त पोषण के लिए धन जुटाये जा रहे हैं।

एजेंसी का दावा है कि आरोपी देश के खिलाफ युद्ध छेड़ रहे हैं और वे गैरकानूनी गतिविधियां (निरोधी) कानून के तहत यह दंडनीय गतिविधियों में शामिल हैं।

जांच एजेंसी का आरोप है कि आरोपी कथित रूप से भारत-विरोधी प्रदर्शनों और बंद के माध्यम से अशांति फैला रहे हैं।

( Source – PTI )

Leave a Reply

%d bloggers like this: