गोवा में आबादी में वृद्धि कम हो रही है

गोवा में आबादी में वृद्धि कम हो रही है
गोवा में आबादी में वृद्धि कम हो रही है

आर्थिक सर्वे 2014-15 की रिपोर्ट में कहा गया है कि बीते एक दशक में गोवा में आबादी में वृद्धि घटकर आधी रह गई है।

2011 की जनगणना के मुताबिक राज्य की आबादी 14.58 लाख थी जो देश की कुल आबादी का 0.12 फीसदी है जबकि 2001 की जनगणना में यह कुल आबादी का 0.13 फीसदी थी। विधानसभा में कल पेश की गई आर्थिक सर्वे की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

2001-11 के बीच राज्य की जनसंख्या में कुल 1.10 लाख यानी 8.23 फीसदी की वृद्धि हुई है। राज्य की जनसंख्या में वृद्धि 1990-2001 के 15.21 फीसदी के मुकाबले 2001 में घटकर 8.23 फीसदी रह गई।

पर्यटकों के बीच लोकप्रिय इस राज्य को पुर्तगाल के शासन से 1961 में मुक्त करवाया गया था। औपनिवेशिक दौर में यहां की वृद्धि दर एकल संख्या में थी।

सर्वे में कहा गया है कि सदी के पहले 60 साल यानी 1900-1960 के दौर में राज्य की आबादी 4.75 लाख से बढ़कर 5.90 लाख हुई। इस तरह छह दशक की लंबी अवधि में यहां केवल 1.15 लाख लोग ही बढ़े।

पुर्तगाल शासन से स्वतंत्रता मिलने के बाद यहां हुई पहली जनगणना में जो आंकड़े सामने आए थे उनके मुताबिक 1960 में जनसंख्या 5.90 थी जो 1971 में बढ़कर 7.95 हो गई थी। यानी आबादी में कुल 2.05 लोग बढ़े थे और इस तरह दशकीय वृद्धि दर 34.77 फीसदी रही थी।

रिपार्ट में कहा गया है कि 1961 में स्वतंत्रता मिलने के बाद से राज्य में शहरीकरण भी बढ़ा है। 1961 में 14.80 फीसदी लोग राज्य के शहरी इलाकों में रहते थे जबकि 2011 में 62.17 फीसदी आबादी शहरों में रहती है।

रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘भारत के छोटे राज्यों में सबसे ज्यादा शहरी आबादी गोवा में रहती है।’’

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

%d bloggers like this: