Posted On by &filed under आर्थिक.


रेलवे की छोटे व्यावसायियों को प्रोत्साहित करने की योजना

रेलवे की छोटे व्यावसायियों को प्रोत्साहित करने की योजना

सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों (एमएसई) को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से भारतीय रेलवे ने 358 वस्तुओं की खरीद को केवल इसी प्रकार के उद्योगों से करने के लिए आरक्षित कर दिया है। इनमें साफ-सफाई का सामान, स्टेशनरी और चमड़े के उत्पाद शामिल हैं।

इसके अलावा रेलवे की निविदाओं में आवेदन के लिए इस प्रकार के उद्योगों को निविदा की लागत और आरक्षित राशि जमा कराए जाने से भी छूट प्रदान कर दी गई है।

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, Þ Þयद्यपि निविदा के सभी प्रकारों में आरक्षित राशि जमा कराने की जरूरत होती है, लेकिन हमने छोटे उद्योगों को निविदा दस्तावेजों के साथ इसे (आरक्षित राशि) जमा कराने से छूट देने का निर्णय किया है। Þ Þ उल्लेखनीय है कि देश के आथर्कि विकास और संगठित अर्थव्यवस्था को सहायता देने के लिए छोटे उद्योगों की वृद्धि महत्वपूर्ण है।

रेलवे के सरकारी खरीद पोर्टल पर अभी कुल 9,973 एमएसई आपूतर्किर्ता पंजीकृत हैं। रेलवे हर साल इस क्षेत्र से करीब [8377]4,400 करोड़ की खरीद करता है।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *