एडमिरल सुनील लाम्‍बा ने नोएडा शहीद स्‍मारक, नोएडा में शहीदों को श्रद्धांज‍लि दी

एडमिरल सुनील लाम्‍बा ने नोएडा शहीद स्‍मारक, नोएडा में शहीदों को श्रद्धांज‍लि दी
ने , दी

नौसेना प्रमुख, पीवीएसएम, एवीएसएम, एडीसी एडमिरल सुनील लाम्‍बा ने नोएडा संस्‍था द्वारा आयोजित एक औपचारिक समारोह में आज सुबह ‘शहीद स्‍मारक’ पर श्रद्धांजलि एवं पुष्‍पांजलि अर्पित की। इस अवसर पर बोलते हुए नौसेना प्रमुख ने कहा कि स्‍थल सेना, वायु सेना एवं नौसेना के जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करना उनके लिए एक सम्‍मान की बात है। उन्‍होंने इस अवसर पर इन जांबाज शहीदों के परिवारों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि सश्‍स्‍त्र बलें हमारे समुद्र क्षेत्र एवं सीमावर्ती क्षेत्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में उनके दिखाए रास्‍ते पर मजबूती से आगे बढ़ती रहेंगी।

इस समारोह में बड़ी संख्‍या में नागरिक एवं सैन्‍य क्षेत्र के गणमान्‍य व्‍यक्तियों, भारतीय प्रशासनिक सेवा एवं भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों, पूर्व सैनिकों, स्‍कूल के छात्रों एवं आम नागरिकों ने भाग लिया जो वहां इन अमर शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए आए थे।

किसी भी देश की महानता उसके नागरिकों द्वारा बहादुर सशस्‍त्र बलों के शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दिए जाने में प्रदर्शित होती है जिन्‍होंने हमारी मातृभूमि की सुरक्षा एवं हिफाजत के लिए अपनी सर्वोच्‍च कुर्बानी दी है। ‘नोएडा शहीद स्‍मारक’ नोएडा टाउनशिप द्वारा निर्मित एक ऐसा ही अनूठी त्रि-सेना मेमोरियल है जिसने हमारे शहीदों की यादों और उनकी भावना को जीवित रखा है।

शहीदों का सम्‍मान करने के लिए इस प्रकार के एक युद्ध स्‍मारक को स्‍थापित करने की संकल्‍पना 1998 में  की गई थी। वर्तमान मेमोरियल उन सभी सशस्‍त्र बलों के जवानों को एक भावपूर्ण श्रद्धांजलि है जिन्‍होंने आजादी के बाद से विभिन्‍न निर्णायक जीतों के लिए अपनी सर्वोच्‍च कुर्बानी दी है। आज नोएडा शहीद स्‍मारक (एनएसएस) एक प्रतिष्ठित मील का पत्‍थर है जो न केवल इन बहादुर जवानों को याद रखता है और आने वाले पीढ़ी के लिए प्रेरणा के एक श्रोत के रूप में कार्य करता है, बल्कि उन लोगों को हमारी शाश्‍वत कृतज्ञता भी अर्पित करता है जिन्‍होंने अपना सर्वोच्‍च बलिदान इसलिए दिया कि हम एक बेहतर भविष्‍य देख सकें। प्रत्‍येक वर्ष एनएसएस संस्‍था फरवरी महीने में हमारे जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए वार्षिक पुष्‍पांजलि समारोह का आयोजन करता है।

युद्ध के वीरों के प्रति‍ श्रद्धां‍जलि ने इस अवसर पर उपस्थित सभी व्‍यक्तियों के दिलों को गर्व की भावना से भर दिया।

( Source – PIB )

Leave a Reply

%d bloggers like this: