प्रकृति की जीवंतता से ही कोरोना की मुक्ति संभव

नई दिल्ली, 1 जुलाई 2021
विद्या भारती स्कूल सूर्यनगर में राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित वन महोत्सव सप्ताह के अंतर्गत लायंस क्लब नई दिल्ली अलकनंदा द्वारा वृक्षारोपण का अनूठा एवं प्रेरक उपक्रम आयोजित हुआ। गवर्नर डे पर संपूर्ण एनसीआर में आयोजित वृक्षारोपण के अंतर्गत यह कार्यक्रम आयोजित हुआ। डिस्ट्रिक-321 ए-1 के उप जनपदपाल द्वितीय लाॅयन प्रदीप सिंघल एवं डिस्ट्रिक के रीजनल चेयरमैन लाॅयन अतुल अग्रवाल ने वृक्षारोपण करते हुए कहा कि कोरोना महामारी के संक्रमण के दौर में पर्यावरण को संरक्षित करके ही हम जनजीवन को बचा सकते हैं। वृक्षारोपण के माध्यम से जीवनरक्षक आॅक्सीजन की मात्रा बढ़ाने का अभिनव उपक्रम सामने आया है।
सीए इंस्टीट्यूट के पूर्व चेयरमैन लाॅयन हरीश चैधरी एवं श्रीमती रेखा चैधरी की शादी की सालगिरह पर आयोजित इस वृक्षारोपण कार्यक्रम में पूर्व वाइस चेयरमैन श्री नीतिन कंवर ने वृक्षारोपण की जरूरत को व्यक्त करते हुए कहा कि प्रकृति की जीवंतता ही कोरोना की मुक्ति का माध्यम है।
लायंस क्लब नई दिल्ली अलकनंदा के नवनिर्वाचित अध्यक्ष लाॅयन ललित गर्ग एवं सचिव लाॅयन अभिषेक जैन ने कहा कि आइए हम प्रकृति संरक्षण के लिए एक साथ खड़े हों और हम याद रखें कि प्रकृति और पर्यावरण समुदाय, समाज और दुनिया के लिए कितने महत्वपूर्ण हैं।
विद्या भारती स्कूल के महासचिव डाॅ. आलम अली सिसोदिया ने स्वागत करते हुए कहा कि लायंस क्लब नई दिल्ली अलकनंदा एक पेशेवर रूप से संचालित शुद्ध शाकाहारी मद्यपान रहित क्लब है जो 28 वर्षों से अधिक समय से समाज की अपने विविध सेवा प्रकल्पों एवं रचनात्मक-सृजनात्मक गतिविधियों से सेवा कर रहा है।
इस अवसर पर जैन सोशल स्टडी ग्रुप के अध्यक्ष श्री अभय चंडालिया, विद्या भारती स्कूल की प्राचार्या श्रीमती सीमा खन्ना, लाॅयन दिनेश गुप्ता, लाॅयन राजेश गुप्ता, श्रीमती बेला गर्ग, विद्या भारती विद्यालय के जनरल मैनेजर श्री नरेन्द्र सिंह, सीए श्री अशोक सिंघल, लाॅयन सतीश गुप्ता, सीए संदीप वशिष्ठ, श्री कुलदीप रावत आदि ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रकृति का लगातार हो रहा दोहन और पर्यावरण की उपेक्षा ही कोरोना जैसी महामारी का बड़ा कारण है। वर्तमान में हमने जंगल नष्ट कर दिए और भौतिकवादी जीवन ने इस वातावरण को धूल, धुएं के प्रदूषण से भर दिया है जिससे हमारा भविष्य खतरे में है। इस खतरे से बचाने में वृक्षारोपण एक कारगर उपाय है। आभार ज्ञापन लाॅयन राजेश गुप्ता ने किया।

Leave a Reply

29 queries in 0.188
%d bloggers like this: