Posted On by &filed under अपराध.


भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान में अवैध गतिविधियों के कारण छह लोग गिरफ्तार

भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान में अवैध गतिविधियों के कारण छह लोग गिरफ्तार

केंद्रपाड़ा स्थित भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान में मानवीय हस्तक्षेप पर निगरानी तेज करते हुए वन कर्मियों ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है जो मगरमच्छों के वासस्थान में अवैध रूप से घुसकर जलावन की लकड़ियां और केंकड़े एकत्र कर रहे थे।

इनमें से पांच को कालाभंजाड़िया क्रीक के पास मैंग्रोव प्रजाति की कटाई करने और जलावन की लकड़ी एकत्रित करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया और साथ में केंकड़ा पकड़ने वाले एक व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि यह गिरफ्तारी गत शनिवार को हुई थी।

वन क्षेत्र अधिकारी अक्षय कुमार नायक ने बताया कि पहले मामले में गश्त लगा रहे वनकर्मियों के दल ने जलावन की लकड़ी की तस्करी के उद्देश्य से वहां रखी मोटरयुक्त दो छोटी नौकाएं जब्त कीं, जबकि दूसरे मामले में गिरफ्तार लोगों के पास से 25 किलोग्राम केंकड़े जब्त किए गये।

अवैध रूप से जलस्रोतों और वन क्षेत्रों तक पहुंचने और मछली पकड़ने की गतिविधि करने तथा जलावन की लकड़ी एकत्रित करने के लिए पिछले 45 दिनों में हालिया जांच के दौरान 36 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय उद्यान के अंदर जल स्रोतों में पूरे वर्ष मानव हस्तक्षेप प्रतिबंधित रहता है।

केंकड़ा पकड़ने वाले आरोपियों सहित इन सभी को वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 की धारा-29 और 31 के प्रावधानों के तहत गिरफ्तार किया गया था।

नायक ने बताया कि बाद में केंकड़ों को वन में छोड़ दिया गया।

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *