संगीत भी समाज के साथ बदलता है और इसमें कोई बुराई नहीं है – सोनू निगम

संगीत भी समाज के साथ बदलता है और इसमें कोई बुराई नहीं है - सोनू निगम
और इसमें कोई बुराई नहीं है –

गायक सोनू निगम का कहना कि हर अन्य चीज की तरह संगीत भी लगातार कई बदलावों से गुजरा है और इसमें कोई बुराई नहीं है अगर आज के गीत 90 के दौर से अलग हैं।

‘कल हो न हो’ गीत के गायक को लगता है कि हरेक पीढ़ी अपनी पिछली पीढ़ी से कुछ सीखने का प्रयास करती है और इसके बाद संगीत को अपने ढंग से ढालती है।

संगीत के 90 के दशक की तुलना में आज आए बदलाव पर सवाल किए जाने पर सोनू ने कहा, ‘‘बेशक संगीत बदलता है। हमारा समाज बदला है, हमारा पहनावा बदला है..भाषा सहित सब कुछ बदलता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हरेक पीढ़ी अपनी पिछली पीढ़ी से कुछ सीखने की कोशिश करती है और उनसे एक कदम आगे निकलने का प्रयास करती है। हमने अपने गुरूओं से सीखा और फिर उसे अपने ढंग से ढाला .. संगीत निश्चित रूप से बदला है और बदलता रहेगा। ’’ कल रात ‘इंडियन आइडल’ के लिए आयोजित संवाददाता सम्मेलन में 43 वर्षीय गायक ने यह बयान दिया।

‘इंडियन आइडल’ के नौंवे संस्करण में सोनू के साथ फराह खान और अनू मलिक भी जज की भूमिका में नजर आएंगे। इन तीनों ने ही 12 साल पहले शो की शुरूआत में जज की भूमिका निभाई थी। करन वाही और परितोष त्रिपाठी शो की मेजबानी करते नजर आएंगे। शो 24 दिसंबर से ‘सोनी’ चैनल पर प्रसारित होगा।

( Source – PTI )

Leave a Reply

%d bloggers like this: