Posted On by &filed under मीडिया.


श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग भूस्खलन के कारण बाधित

श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग भूस्खलन के कारण बाधित

श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर आज लगातार दूसरे दिन भी वाहनों की आवाजाही बाधित रही क्योंकि हर मौसम में कश्मीर को देश के अन्य हिस्सांे से जोड़ने वाला यह एकमात्र राजमार्ग भूस्खलन के कारण कल से बंद है।

यातायात नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने बताया कि कुछ स्थानों पर बारिश के बाद भूस्खलन के कारण राजमार्ग आज भी बंद है।

अधिकारी ने बताया कि भूस्खलन के बाद सड़क पर फैले मलबे को हटाने के लिए मजदूर मशीनों की मदद ले रहे हैं और सड़क को कल दोबारा यातायात के लिए खोला जा सकता है।

करीब 300 किमी लंबे इस राजमार्ग में रामबन और पंथाल के बीच कुछ स्थानों पर बारिश के कारण कल भूस्खलन हुआ था।

कश्मीर घाटी के ज्यादातर हिस्सों में 17 फरवरी से रक-रक कर बारिश हो रही है जो कल रात भी जारी रही।

मौसम विज्ञान विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि घाटी के अधिकतर हिस्सों में रातभर बारिश हुई जबकि पहलगाम में 20 संेटीमीटर बर्फ भी गिरी।

इस बीच लद्दाख क्षेत्र सहित पूरे कश्मीर में रात के तापमान में गिरावट दर्ज की गई।

प्रवक्ता के अनुसार राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 2.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो एक रात पहले 5.8 डिग्री था। उन्होंने बताया कि राजमार्ग पर कश्मीर का गेटवे शहर कहलाने वाले काजीगुंद में न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस तथा समीपवर्ती कोकेरनाग शहर में शून्य से नीचे 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

उन्होंने कहा कि उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा शहर में न्यूनतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस रहा। जम्मू कश्मीर में लेह सबसे ठंडा स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 6.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। समीपवर्ती करगिल में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 5.2 डिग्री दर्ज किया गया।

प्रवक्ता के अनुसार, कश्मीर में आज उंचाई वाले स्थानों पर हल्की बारिश होने या मामूली हिमपात होने की संभावना है जिसके बाद मौसम साफ रह सकता है।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *