ट्रेन में बम की अफवाह फैलाने वाला धरा गया

ट्रेन में बम की अफवाह फैलाने वाला धरा गया
में

जम्मू से पटना जाने वाली में बम होने की गलत सूचना देने वाले युवक को पुलिस ने आज जिले के आदमपुर इलाके से गिरफ्तार कर लिया है और उससे यह पता लगाया जा रहा है कि उसने यह काल क्यों की थी ।

जालंधर के पुलिस उपायुक्त :अनुसंधान: संदीप शर्मा ने बताया कि मंगलवार को जम्मू से पटना जा रही अर्चना एक्सप्रेस में देने वाले युवक को पुलिस ने जिले के अलावलपुर इलाके से गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है ।

शर्मा ने बताया, ‘‘पकडे गए युवक की पहचान रईस के रूप में की गयी है । मूल रूप से वह बिहार के अररिया जिले का रहने वाला है और वर्तमान में जालंधर के अलावलपुर क्षेत्र में रहता है । राजकीय रेल पुलिस की टीम उससे पूछताछ कर रही है । यह पता लगाया जा रहा है कि उसने यह झूठी सूचना क्यों दी थी।’’ अधिकारी ने बताया कि प्राथमिक पूछताछ में यह पता चला है कि उसने अपनी आदत के अनुसार यह झूठी सूचना दी थी । फर्जी काल कर लोगांे को परेशान करने की उसकी पुरानी आदत है । उसने अर्चना एक्सप्रेस को देख कर पहले आरपीएफ नियंत्रण कक्ष में फोन किया जब वहां बात नहीं बनी तो उसने हेल्पलाइन नंबर 138 पर सूचना दी कि गाडी में बम है ।

उन्होंने बताया कि सूचना के बाद लगभग चार घंटे तक जीआरपी, कमिश्नरेट पुलिस तथा सेना ने जांच पड़ताल की लेकिन कुछ नहीं मिला । रईस को उसके फोन नंबर के आधार पर ट्रेस कर पकडा गया है तथा जीआरपी थाने में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है ।

( Source – PTI )

1 thought on “ट्रेन में बम की अफवाह फैलाने वाला धरा गया

  1. जलंधर जिले में स्थित इस छोटे से गाँव (इसे अब शहर कहते हैं) के बारे में प्रायः कहा जाता था कि “ਅਲਾਵਲਪੁਰ ਪਿੰਡ ਨਗੀਨਾ, ਆਵੇ ਇਕ ਦਿਨ ਰਵੇ ਮਹੀਨਾ!” (अलावलपुर गाँव नगीना, आये एक दिन रहे महीना!) जहां घर की छत पर से दूर क्षितिज तक खेत-खलिहानों के अतिरिक्त कुछ नहीं दिखाई देता था वहां ऐसे लोग आ बस गए हैं विश्वास नहीं होता| बचपन में प्रातः मेरी नींद मुर्गे की बांग से नहीं, मोर की पुकार से खुलती थी! समय बीतते लोगों ने उन्हें अपने मुंह का ग्रास बना अलावलपुर से मोर को विलुप्त कर दिया है| मैं तो कहूँगा १९६० के दशक में वहां शराब का ठेका खुलने से इस सुन्दर गाँव के स्वरूप को ही बदल दिया गया था| “सुपर कॉप” कँवर पाल सिंह गिल के ससुर, सुप्रसिद्ध आई जी पुलिस (संयुक्त पंजाब) सरदार संत प्रकाश सिंह जी व अन्य समसामयिक व्यक्तित्व के महानुभावों के गाँव को स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत फिर से स्वच्छ सुन्दर और समृद्ध बनाया जाना चाहिए| और हाँ, मोदी जी द्वारा देश में परिवर्तन में बाधा बने राष्ट्रद्रोहियों से दृढ़ता से निपटना होगा|

Leave a Reply

%d bloggers like this: