चिप लगाकर पेट्रोल चोरी करने का भण्डाफोड़ : हर माह होती थी 10 से 15 लाख की पेट्रोल चोरी

चिप लगाकर पेट्रोल चोरी करने का भण्डाफोड़ : हर माह होती थी 10 से 15 लाख की पेट्रोल चोरी
चिप लगाकर पेट्रोल चोरी करने का भण्डाफोड़ : हर माह होती थी 10 से 15 लाख की पेट्रोल चोरी

उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स :एसटीएफ: ने लखनउ के सात पेट्रोल पम्पों पर छापा मारकर इलेक्ट्रानिक चिप के जरिये पेट्रोल चोरी करने के गोरखधंधे का भण्डाफोड़ किया है।

एसटीएफ के अपर पुलिस अधीक्षक अरविन्द चतुर्वेदी ने आज यहां बताया कि सूचना मिलने पर एक इलेक्ट्रीशियन को पकड़ा गया था जो पेट्रोल पम्प की मशीनों में चिप लगाता था, जिसकी मदद से गाड़ियों में पेट्रोल भरते वक्त उसे रिमोट के जरिये नियंत्रित करके तेल चोरी किया जाता था। इस बड़े गोरखधंधे के मामले में कुल 14 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

उन्होंने बताया कि इस खुलासे पर एसटीएफ ने राजधानी के सात पेट्रोल पम्पों पर एक साथ छापा मारा और सभी की मशीनों में वह चिप लगी पायी गयी। करीब 200 मीटर की दूरी तक सिग्नल पकड़ने वाली उस चिप को पम्प परिसर में कहीं भी बैठा व्यक्ति रिमोट के जरिये नियंत्रित करता था। जब रिमोट का बटन दबाया जाता था तो पाइप से पेट्रोल गिरना बंद हो जाता था, जबकि मीटर पर पेट्रोल की मात्रा और रपयों का नम्बर उसी रफ्तार से चलता रहा था।

चतुर्वेदी ने बताया कि करीब तीन हजार रपये की उस चिप के जरिये प्रति लीटर 50 से 100 मिलीलीटर तेल चोरी किया जाता था। हिसाब लगाने पर पता लगा है कि एक पेट्रोल पम्प पर प्रति दिन 10 से 15 लाख रपये का पेट्रोल चोरी किया जा रहा था।

उन्होंने बताया कि उस चिप को बड़े पैमाने पर पेट्रोल पम्पों को बेचे जाने की सूचना मिली है, लिहाजा राज्य के अन्य भागों में भी पेट्रोल पम्पों पर छापेमारी की जाएगी।

( Source – PTI )

Leave a Reply

%d bloggers like this: