झीलों की नगरी उदयपुर की झीलें छलकने लगीं

झीलों की नगरी उदयपुर की झीलें छलकने लगीं
झीलों की नगरी उदयपुर की झीलें छलकने लगीं

उदयपुर संभाग में पिछले कई दिनों से रूक-रूक कर हो रही बारिश के कारण झीलों की नगरी उदयपुर की कुछ झीलों में पानी भराव क्षमता से उपर बह रहा है और कुछ झीलों का जल भराव क्षमता के निकट पहुंच चुका है ।

लेक सिटी की सुंदरता को चार चांद लगाने वाली ऐतिहासिक पिछोला झील का पानी भराव क्षमता से उपर बह रहा है, जबकि फतहसागर झील का जलस्तर 11 फीट के करीब पहुंच गया है। पिछोला झील से बह रहा पानी स्वरूपसागर की रपट से हो कर उदयसागर झील में जा रहा है। मदार बड़ा तालाब पर पानी की 8 इंच, मदार छोटा तालाब पर 3 इंच तथा चिकलवास फीडर पर 4 इंच की चादर चल रही है जिसका पानी फतहसागर में आ रहा है। इसके चलते 13 फुट भराव क्षमता वाली फतहसागर झील में जल स्तर 11 फुट पर पहुंच गया है।

सिंचाई विभाग के एईएन देवीलाल पटेल ने बताया कि जिले में रूक-रूककर बारिश जारी है। इसके चलते विश्व प्रसिद्घ जयसमंद झील में साढे दस फुट, डाया बांध में पांच फुट, हरचंद तालाब में साढ़े छह फुट, केजड़ तालाब में 22 फुट, अदवास तालाब में पांच फुट और सेमारी तालाब में 13 फुट पानी की आवक हुई है। सिंचाई विभाग के बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार, आज सुबह आठ बजे तक ओगणा में 64 मिमी, सेई बांध पर 61 मिमी, मदार तालाब पर 47 मिमी और डाया में 35 मिमी बारिश रिकार्ड की गई ।

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

25 queries in 0.139
%d bloggers like this: