सेवा कार्यों के लिए विद्या भारती ने खोले 80 स्कुलों के दरवाजे

विद्या भारती ने कोरोना राहत कार्यों के लिए प्रशासन को सौंपे 80 स्कुल

कोरोना संक्रमण के कारण प्रदेश में पैदा हुई आपातकालिन स्थितियों के बीच विद्या भारती ने मध्य भारत प्रांत के 16 जिलों के 80 विद्यालयों को शासन की सहायता हेतु पूरे तरीके से खोल दिया है। मध्यप्रदेश में कोरोना का संक्रमण अपना पैर पसार रहा है जिसकी वजह से शासन को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे मुश्कील समय में विद्या भारती मध्य भारत प्रांत अपनी इस पहल के कारण एक उदाहरण बन के सामने आया है।

विद्या भारती मध्य भारत प्रांत के प्रांत संगठन मंत्री हितानंद जी शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि संकट की इस घड़ी में विद्या भारती मध्य भारत प्रांत सरकार को हर आवश्यक जरूरत के लिए सहयोग देने तैयार है। हमनें मध्य भारत प्रांत के 16 जिलों के सभी विद्यालयों की सूची शासन प्रशासन को सौंप दी है, इस सूची के अंतर्गत आने वाले सभी विद्यालयों को शासन अपनी आवश्यकता अनुसार आपातकालीन स्थिति में उपयोग में ले सकता है। इन विद्यालयों के वाहनों को भी सरकार अपने उपयोग में ले सकती है, यही नहीं अगर आवश्यक हुआ तो विद्या भारती मध्य भारत प्रांत के सभी विद्यालयों को सरकार के सहयोग के लिए खोल देगी जिसमें प्रशासन आवश्यकता अनुसार इन विद्यालयों को अपने उपयोग में ले सके फिर चाहे वह आइसोलेशन वार्ड बनाने की बात हो या फिर प्रवासी मजदूरों को रहने का स्थान देने की बात हो।

सेवा कार्यों में जुटा संघ

राष्ट्रीय संकट के इस समय में संघ के संव्यसेवक विभिन्न स्तरों पर शासन प्रशासन एवं आम जनों के सहयोग में लगे हैं। स्वंयसेवक कोरोना से बचाव के लिए नगर निगम द्वारा बनाए जा रहे सुरक्षा घेरों को बनाने में अपना योगदान दे रहा हैं। संघ के अनुषांगिक संगठन सेवा भारती के कार्यकर्ता भी लगातार पूरे प्रदेश में कई प्रकार के सेवा कार्य में लगे हुए हैं, इन सेवा कार्यों में स्वयंसेवक निर्धन व असहाय व्यक्तियों को लगातार भोजन प्रदान कर रहे हैं साथ ही साथ जरूरतमंद व्यक्तियों को मास्क व सैनिटाइजर का भी वितरण किया जा रहा है। सेवा भारती गुना के कार्यकर्ताओं द्वारा सेवा बस्तियों में व जरूरतमंद लोगों को सूखा राशन प्रदान किया जा रहा है। जिसमें एक पैकेट के अंदर 5 किलो आटा 2 किलो चावल 1 किलो दाल व आधा लीटर तेल शामिल है सेवा भारती के कार्यकर्ता सतत अपनी सेवाएं प्रदेश के अलग-अलग जिलों में दे रहे हैं। संघ के स्वंयसेवक लोगों को संक्रमण से बचाव के उपाय बता रहे हैं एवं जागरुकता अभियान भी चला रहे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: