Posted On by &filed under राजनीति.


पश्चिम बंगाल में वाम समर्थित बंद शुरू हुआ

पश्चिम बंगाल में वाम समर्थित बंद शुरू हुआ

केंद्र सरकार द्वारा 1000 और 500 रूपये के नोटों को अमान्य किए जाने के विरोध में वाम दलों का राज्यभर में 12 घंटे का बंद आज शुरू हो गया, जिसका शुरूआती कुछ घंटों में सामान्य जनजीवन पर खास असर पड़ता नहीं दिखा।

सड़कों पर सरकारी बसें और अन्य निजी वाहन उतरे।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘अभी तक कोई बड़ी घटना नहीं हुई है हालांकि जिलों से छिटपुट घटनाओं की खबर है।’’ वाम दलों के बंद का पं. बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल ने विरोध किया है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, ‘‘बंद का हम विरोध करते हैं। सोमवार को हम विरोध मार्च :नोटबंदी के खिलाफ: निकालेंगे।’’ तृणमूल का कहना है कि जब लोग पहले ही नगदी की कमी के कारण कई समस्याओं का सामना कर रहे हैं ऐसे में वह उन्हें और तकलीफ देने के खिलाफ है।

तृणमूल के महासचिव सुब्रत बक्शी ने बताया कि इसके बजाए तृणमूल नोटबंदी के विरोध में आज कॉलेज स्क्वेयर से एस्प्लानेड के बीच रैली निकालेगी।

राज्य सरकार ने अपने सभी कर्मचारियों को आज और कल दफ्तर आने का आदेश दिया है। अवकाश अपवाद स्थिति में ही मान्य होगा। इस बाबत राज्य के वित्त विभाग ने सकरुलर जारी किया है।

कोलकाता पुलिस के अतिरिक्त आयुक्त सुप्रतिम सरकार ने बताया कि किसी भी अप्रिय स्थिति से निबटने के लिए महानगर में लगभग 3,000 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *