उच्चतम न्यायालय ने सीबीआई से पत्रकार हत्या मामले की जांच तीन माह में पूरी करने को कहा

उच्चतम न्यायालय ने सीबीआई से पत्रकार हत्या मामले की जांच तीन माह में पूरी करने को कहा
उच्चतम न्यायालय ने सीबीआई से पत्रकार हत्या मामले की जांच तीन माह में पूरी करने को कहा

उच्चतम न्यायालय ने आज सीबीआई से कहा कि वह बिहार में पत्रकार राजदेव रंजन हत्या मामले की जांच तीन माह में पूरी करे ।

न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति अमिताव रॉय की पीठ ने यह स्पष्ट कर दिया कि हत्या मामले का कोई भी आरोपी आरोप पत्र दायर नही होने के आधार पर जमानत न मांगे।

पीठ ने सिवान में सत्र न्यायाधीश से भी यह रिपोर्ट मांगी कि जिस दिन ये दो भगौड़े आरोपी – मोहम्मद कैफ और मोहम्मद जावेद बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव और राजद के विवादित नेता शहाबुद्दीन के साथ नजर आए थे, तब क्या उन्हें घोषित अपराधी करार दिया गया था? इसी बीच, बिहार सरकार ने पीठ को बताया कि इन आरोपियों ने जब सिवान में बिहार के स्वास्थ मंत्री के साथ मुलाकात की थी, तब उन्हें घोषित अपराधी करार नहीं दिया गया था।

रंजन की पत्नी आशा रंजन ने 23 सितंबर को शीर्ष अदालत में दावा किया था कि सीबीआई ने ‘राजनीतिक प्रभाव’ और ‘शहाबुद्दीन के डर’ के कारण इस मामले में जांच शुरू तक नहीं की है।

( Source – पीटीआई-भाषा )

Leave a Reply

30 queries in 0.159
%d bloggers like this: