Posted On by &filed under राजनीति.


मध्यप्रदेश के 12 और जिलों में ई-खनिज पोर्टल से ऑनलाइन ई-टीपी सेवाएं होगी लागू

मध्यप्रदेश के 12 और जिलों में ई-खनिज पोर्टल से ऑनलाइन ई-टीपी सेवाएं होगी लागू

कैशलेस लेन-देन करने के मकसद से मध्यप्रदेश के खनिज संसाधन विभाग ने अगले महीने से राज्य के 12 और जिलों में ई-खनिज पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन इलेक्ट्रॉनिक ट्रांजिट पास :ईटीपी: सेवाएं लागू करने का निर्णय लिया है।

इससे पहले इस साल अक्तूबर में विभाग द्वारा ई-खनिज पोर्टल के जरिये ऑनलाइन ईटीपी की सेवाओं को जबलपुर जिले में लागू किया है।

मध्यप्रदेश के खनिज संसाधन मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने आज यहां ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘अब इस ईटीपी सेवा का आगामी जनवरी माह से 12 और जिलों में विस्तार किया जाएगा। संभावित कठिनाइयों का निराकरण करने के बाद प्रदेश के समस्त 51 जिलों में ऑनलाइन ईटीपी की सेवाओं को शीघ्र ही लागू किया जायेगा।’’ उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा अगले चरण में जिन 12 जिलों में ऑनलाइन ईटीपी सेवाओं को शुरू किया जाएगा, उनमें बालाघाट, सागर, टीकमगढ, सतना, राजगढ, बैतूल, इन्दौर, उज्जैन, नीमच, ग्वालियर, भिण्ड और होशंगाबाद जिले शामिल हैं।

शुक्ल ने बताया कि विभाग द्वारा ई-खनिज पोर्टल के जरिये ऑनलाइन ईटीपी की सेवाओं को एक अक्टूबर 2016 से जबलपुर जिले में सफलता से लागू किया गया है। इससे अभी तक शासन को ऑनलाइन 2.55 करोड़ रपये से अधिक की राशि रॉयल्टी के रूप में प्राप्त हो चुकी है। साथ ही 19,839 ऑनलाईन ईटीपी ई-खनिज पोर्टल से जारी की जा चुकी है।

उन्होंने कहा कि ईटीपी के माध्यम से ठेकेदारों द्वारा पूर्व में रायल्टी की राशि चालान से जमा करवाई जाती थी।

( Source – PTI )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *